बिहार के जमीन रजिस्ट्री में चालान का झंझट खत्म, अब मोबाइल से होगा पेमेंट

बिहार में अब जमीन रजिस्ट्री कराने नहीं होगी चालान की जरुरत. आपके मोबाइल से सीधा हो जायेगा पेमेंट. कोई बैंक जाने की जरुरत नहीं है. मोबाइल से QR कोड को स्कैन करते ही पेमेंट डायरेक्ट सरकार के पास पहुच जाएगी. बिहार के सभी रजिस्ट्री ऑफिस में इसकी तैयारी चल रही है. POS और QR लगाये जा रहे है.

जानकारी के लिए बता दूँ की पहले आप किसी जमीन की खरीद बिक्री करते थे तो वहां रगिस्ट्री चार्ज के तौर पर एक डिमांड ड्राफ्ट बनवाना पड़ता था. जिसके वजह से लोगों को बैंक जाने की जरुरत होती थी. यहाँ काफी भीड़ होती थी. कई घंटो का समय लगता था. इन्ही समस्याओं को दूर करने के लिए अब ऑनलाइन पेमेंट की सुविधा दी जा रही है.

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार UPI पेमेंट के लिए अभी दो बैंकों को जिम्मेदारी दी गई है. जिसमे  को-ऑपरेटिव व एक्सिस बैंक शामिल है. सभी जिले के रगिस्ट्री ऑफिस में QR कोड और POS (Point of Sale) लगाये जा रहे है. उम्मीद ये जताई जा रही है की 10 दिनों बाद इसकी ट्रायल भी शुरू कर दी जाएगी. इसके तहत रजिस्ट्री ऑफिस में ‘मे आइ हेल्प यू’ वाला एक काउंटर होगा. वही पर बगल में QR code और POS लगा होगा.

बिहार राज्य के रगिस्ट्री ऑफिस में जो इ-स्टांप ख़रीदा जाता है, उसका पेमेंट भी अब कोड स्कैन करके हो सकेगा. अब इ-स्टांप खरीदने के लिए लाइन में नहीं लगना होगा. इ-स्टांप लेते ही मोबाइल से QR स्कैन करके पेमेंट हो जायेगा. इसमे किसी तरह की लापरवाही की कोई गुंजाईश नहीं होगी. लापरवाही करने पर कर्मचारी दण्ड के भागी होंगे.