blank 1aessessf

बिहार गंगा नदी पर जेपी गंगा पथ बनकर तैयार है. इस पथ को अब गंगा एक्सप्रेस-वे भी कहा जाने लगा है. इस सड़क के किनारे आसपास के लोग सुबह-शाम टहलने आते है. मोर्निंग और इवनिंग वाक के लिए अभी यहाँ एक्सप्रेस-वे के किनारे 200 मीटर का टूटी फूटी सड़क है जिसपर लोग टहलते है. लेकिन बताया जा रहा है की अगले महीने यानि अक्टूबर महीने में यहाँ 5 किलोमीटर लम्बा पेवर ब्लाक बना लिया जायेगा. जहाँ लोग आसानी से सैर-सपाटा कर सकेंगे.

Also read: अब सीमांचल से दरभंगा एयरपोर्ट पहुचने में लगेगा कम समय, फोरलेन बनेगा दरभंगा-जयनगर नेशनल हाइवे

गंगा एक्सप्रेस-वे बिहार राज्य के गंगा नदी पर बना है. जो दीघा से पीएमसीएच के लिए आवागमन होता है. पेवर ब्लाक के लिए शुरू से ही योजना थी लेकिन बरसात आ जाने के कारण एक्सप्रेस-वे के साइड में सर्विस रोड का कार्य बंद कर दिया गया . कहा गया की अगर गंगा नदी का जल स्तर बढ़ता है तो नवनिर्मिंत सड़क को नुकसान हो सकता है. अब पानी वहां तक नहीं आया इसीलिए फिर से मिट्टी भराई का काम शुरू कर दिया गया है.

Also read: बिहार में बिछेगा सड़को का जाल, बनेगा 1530 KM लंबे 7 नए हाइवे

मिडिया रिपोर्ट की माने तो अक्टूबर महीने में इस पेवर ब्लाक को जनता के लिए खोल दिया जायेगा. इस सड़क 5km का होगा. अभी 200 मीटर के एरिया में बना हुआ है. इसी का विस्तारीकरण हो रहा है. गंगा एक्सप्रेस-वे (जेपी-गंगा एक्सप्रेस-वे) अभी 7 किलोमीटर बनकर तैयार है. जिस पर पटना से दीघा के लिए रोज गाड़ियों का आवाजाही होता है.

Also read: बिहार में बनने जा रही है चमचमाती एलिवेटेड सड़क, खर्च होंगे 15000 करोड़

Also read: बिहार से देवघर जाना हुआ आसान, अब पटना से देवघर 4 घंटे में, जाने किराया