बिहार के कई जिलों में सीएनजी बस की सौगात, जाने किस जिले को मिला कितना सीएनजी बस

बिहार के सभी बड़े शहरों में सीएनजी बस चलने जा रही है. बिहार की राजधानी पटना में कई सीएनजी बस कार्यरत है. अब बाकि अन्य शहरों में भी इसका विस्तार किया जा रहा है. जिस शहर में प्रमंडल मुख्यालय है उस शहरों में मुख्या रूप से सीएनजी बस चलाने का प्लान है. बिहार परिवहन विभाग ने योजना पर काम करना शुरू कर दिया है. इंधन के लिए सीएनजी पंप की संख्या को भी बढाया जा रहा है.

कुछ दिन पहले पटना में हुई बैठक में इंधन कंपनि गेल, आइओसीएल, थिंक गैस व आइओएजीपीएल के अधिकारीयों में एक बैठक किया. इस बैठक में बिहार में वर्तमान कार्यरत सीएनजी स्टेशन और नए सीएनजी स्टेशन की स्थापना पर मंथन किया गया. बता दें की सभी बड़े शहरों में सीएनजी स्टेशनों के लिए एक मदर स्टेशन बनाए जायेंगे. ये मदर स्टेशन अंदरूनी पंप पर गैस की आपूर्ति करेगी.

बिहार राज्य परिवहन प्राधिकार की हुई बैठक में बिहार से बंगाल और छत्तीसगढ़ के बीच अनेक रूटों पर नई-नई बसों को परमिट दिया गया है. वजीरगंज से कोलकाता वाया हजारीबाग – वर्धमान के बीच कुल तीन बस चलाई जाएगी. साथ ही मोतिहारी से सिलीगुड़ी वाया दरभंगा के बीच दो और बस चलाने का प्लान है. आगे राजगीर से कोलकाता वाया हजारीबाग – दुर्गापुर के लिए दो बस चलाने का परमिशन मिल गया है.

दो बस बिहार के मोतिहारी जिला से मुजफ्फरपुर – पूर्णिया होते हुए पश्चिम बंगाल के सिलीगुड़ी जाएगी. दो बस बिहार के राजगीर से बिहारशरीफ व पूर्णिया होते हुए सिलीगुड़ी तक जाएगी. पूर्णिया से दलकोला होते हुए रायगंज तक एक बस जाएगी. साथ ही बांका जिले से पूर्णिया व दलकोला होते हुए सिलीगुड़ी दो बस जाएगी. आगे मारहर से कोलकाता वाया धनबाद , आसनसोल व वर्धमान के लिए कुल 3 बस आबंटित की गई है. खेसर से देवघर दुमका होते हुए दो बस कोलकाता जाएगी.