जेपी गंगा एक्सप्रेसवे पथ के किनारे सैर के लिए 5km लम्बा वॉकवे बनेगा, मिट्टी भराई का काम शुरू

बिहार के पटना में 7.5 किलोमीटर गंगा एक्सप्रेसवे बनकर तैयार हो चूका है. वर्तमान में गंगा एक्सप्रेसवे पर गाड़ियों का आवागमन भी शुरू हो चूका है. इसी एक्सप्रेसवे के किनारे लोगो को सुबह शाम टहलने के लिए पैदल पथ बनाया जा रहा है. जेपी गंगा पथ के किनारे 5 किलोमीटर लम्बा पथ अब इसी साल के अक्टूबर महीने में पूरा कर लिया जायेगा.

सड़क के दोनों तरफ लगभग 5 किलोमीटर का पेवर ब्लाक का निर्माण किया जायेगा. जिससे लोगो को मोर्निंग और इवनिंग वाक में सहूलियत हो. वर्तमान में मिट्टी भराई का काम शुरू कर दिया गया है. इस काम को अक्टूबर में पूरा कर लिया जायेगा और लोगो के लिए खोल दिया जायेगा. फ़िलहाल सिर्फ 200 मीटर में पेवर ब्लाक है. लोगो के घुमने के लिए यह पर्याप्त नहीं है इसीलिए इसे 5 किलोमीटर लम्बा बनाया जायेगा.

बिहार का गंगा एक्सप्रेसवे अभी सिर्फ 7.5 किलोमीटर ही बना है जो दीघा रोटरी से PMCH तक जाती है. लगभग 2.5 किलोमीटर एक्सप्रेसवे जमीन से ऊपर एलिवेटेड है तो लगभग पांच किलोमीटर जमीन पर बनाई गई है. गंगा एक्सप्रेसवे पर बरसात से आने वाले बाढ़ के कारण पेवर ब्लाक नहीं लगा था. लेकिन अब गंगा में स्थिति सामान्य है. तो अब 5 किलोमीटर एरिया में मिट्टी भराई का काम शुरू कर दिया गया है.