लखनऊ, वाराणसी के लिए बिहार से खुलेंगी आधुनिक बसें, यात्रियों के लिए होगा आठ लाख का बीमा

बिहार के बस यात्रियों को अब लखनऊ, वाराणसी जाने में आसानी होगी. सरकार की नयी नीति के तहत एक जिले को दूसरे जिले व राजधानी दिल्ली समेत अन्य शहरों से जोड़ने के लिए चलाये जाने वाले यात्री बसों में मोतिहारी परिवहन डिपो को भी आधा दर्जन से अधिक आधुनिक बसें मिलेंगी. फिलहाल 49 गाड़ी का परिचालन हो रहा है, जिसमें पटना के लिए 11 बसें चल रही हैं. आने वाले दिनों में इसकी संख्या में और वृद्धि होगी. सरकार के नीति के तहत अब मोतिहारी प्रतिष्ठान से गोरखपुर, लखनऊ, वाराणसी और रांची के लिए एसी व सेमी डिलक्स बसों का परिचालन होगा. जिसका प्रस्तावित समय, किराया आदि का प्रस्ताव विभाग को भेजा गया है. स्वीकृति मिलने के साथ परिचालन शुरू कर दिया जायेगा.

यह भी पढ़ें  गोवा का मजा अब बिहार में ! वाटर एडवेंचर स्पोर्ट्स में पैरासेलिंग का जानें कहां हुआ सफल ट्रायल

मोतिहारी से अब सीधे काठमांडू भी जा सकेंगे यात्री

बताया जा रहा है की अभी पटना वाया मोतिहारी-काठमांडू बस चल रही है, जो इस माह के अंत तक मोतिहारी से सीधे काठमांडू जायेगी. जिले के लिए संचालित दो बसों का अग्रिम बुकिंग चल रहा है. गुरुवार से रविवार तक का सीट फुल था. प्रतिष्ठान अधीक्षक ने बताया कि दिल्ली जाने वाली बस में यात्रियों को 1280 के किराया में आठ लाख बीमा राशि की सुविधा भी दी जा रही है. यह राशि किसी अनहोनी होने के बाद पीड़ित परिवार को मिलेगा. दिल्ली के लिए प्रतिदिन शाम 5.30 व 7.30 में दो वोल्वो बस खुल रही है. मोतिहारी से काठमांडू के लिए 785 रुपये रखा गया है, जबकि मोतिहारी से पटना के लिए 214 रुपये किराया रखा गया है, जो निजी बसों से कम है. पटना के लिए अंतिम बस 9.30 बजे डीपो से खुल रही है.

यह भी पढ़ें  पटना में बनेगा एक और सिक्स लेन पुल, जानें कब बनकर होगा तैयार और इससे किसको होगा लाभ

डिपो के आधुनिकीकरण पर खर्च होंगे दो करोड़

मीडिया रिपोर्ट की माने तो जिला मुख्यालय के छतौनी स्थित जर्जर पथ परिवहन डिपो का आधुनिकीकरण होगा. इसके आधुनिकीकरण पर दो करोड़ रुपये खर्च होने का अनुमान है. आधुनिकीकरण के तहत पेयजल की सुविधा के साथ यात्रियों के लिए वीआईपी वेटिंग रूम, गाड़ी छूटने पर रहने की व्यवस्था, बिजली, पानी आदि की भी सुविधा भी सही ढंग से मिलेगी. प्रतिष्ठान अधीक्षक राजीव नयन झा ने बताया कि प्रस्ताव भेजा गया है, स्वीकृति के साथ कार्य किया जायेगा.