Scholarship Scheme 2022 : बिहार के दो लाख आईटीआई छात्रों को मिलेगी छात्रवृत्ति

बिहार के छात्रों के लिए यह बहुत ही खुसी की खबर है. बता दे की निजी औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान (प्राइवेट आईटीआई) में पढ़ रहे बिहार के दो लाख आईटीआई छात्रों को अब छात्रवृत्ति का लाभ मिलेगा। आपके लोकप्रिय अखबार ‘दैनिक हिन्दुस्तान’ ने इस विषय को बीते दिनों प्रमुखता से उठाया था कि कैसे केंद्र के आदेश के बाद राज्य सरकार की ओर से आदेश जारी नहीं होने के कारण आईटीआई छात्र छात्रवृत्ति से वंचित हैं। उस पर सरकार ने संज्ञान लेते हुए मंगलवार को राज्य के प्राइवेट आईटीआई में पढ़ रहे दो लाख छात्रों को छात्रवृत्ति देने का आदेश जारी कर दिया है।

यह भी पढ़ें  Bihar Railway News: बड़हिया में रुकेंगी मुजफ्फरपुर-भागलपुर व एलटीटीइ-गुवाहाटी एक्सप्रेस

आपको बता दे की विभाग के संयुक्त सचिव गजेन्द्र मिश्रा की ओर से जारी आदेश में कहा गया है कि केंद्र सरकार ने आईटीआई के इंजीनियरिंग व गैर-इंजीनियरिंग छात्रों के लिए वार्षिक प्रशिक्षण शुल्क तय किया है। इसके तहत इंजीनियरिंग ट्रेड के लिए 26 हजार और गैर इंजीनियरिंग के लिए 21 हजार 200 तय किया गया है। वर्ष 2024 से पांच फीसदी की दर से प्रतिवर्ष एक समान वृद्धि अनुमान्य होगी। पांच साल बाद प्रशिक्षण महानिदेशालय की ओर से शुल्क संरचना की समीक्षा की जाएगी।

खास बात यह है की सरकार का यह आदेश जारी होते ही बिहार के सभी प्राइवेट आईटीआई में पढ़ने वाले छात्रों को सत्र 2022-23 से उपरोक्त शुल्क देना होगा। साथ ही इसके आधार पर अब प्राइवेट आईटीआई में पढ़ रहे दो लाख विद्यार्थियों को मिलने वाली छात्रवृत्ति भी मिलने लगेगी। बिहार सरकार इंजीनियरिंग ट्रेड में पढ़ने वाले छात्रों को 10,400 रुपए और नॉन इंजीनियरिंग छात्रों को 8480 रुपए छात्रवृत्ति देगी। इस शुल्क की बाकी रकम छात्रवृत्ति के तौर पर केंद्र सरकार की ओर से वहन की जाएगी। 

यह भी पढ़ें  भागलपुर में तेज हवा व बूंदाबांदी ने बदला मौसम का मिजाज, जानें अगले 48 घंटे का पूर्वानुमान