समस्तीपुर शहरवासियों के लिए खुशखबरी! दरभंगा-आमस एक्सप्रेस वे से जुड़ेगा एसएच 49

बिहार के लोगो के लिए बिहार सरकार ने एक और खुसी की खबर दी है. बता दे की बिहार में बनने वाले पहले एक्सप्रेस वे आमस-दरभंगा फोरलेन हाइवे अब समस्तीपुर मुख्यालय से सटे कर्पूरीग्राम के निकट एसएच 49 से जुड़ेगा. समस्तीपुर के सांसद प्रिंस राज के अथक प्रयास व परिश्रम से यह समस्तीपुर को मिला है. सांसद प्रिंस राज ने बताया कि एनएचएआई ने अंततः इस बात को मंजूरी दे दी है.

कर्पूरीग्राम के निकट से जोड़ा जायेगा

आपको बता दे की नेशनल हाइवे डी-119 को 2.1 किमी संपर्क पथ को कर्पूरीग्राम के निकट से जोड़ा जायेगा. बताते चले कि सांसद इसके लिए पिछले कई माह से प्रयास कर रहे थे. गया के आमस से जहानाबाद, नालंदा के करायपरसुराय व पटना के कच्ची दरगाह, हाजीपुर के कल्याणपुर, समस्तीपुर के ताजपुर से होते हुए दरभंगा के बेला-नवादा के पास एनएच-27 में जाकर मिल जाएगा. एनएचएआई 189 किलोमीटर लंबे एक्सप्रेस वे का निर्माण करेगा. औरंगाबाद-दरभंगा एनएच 119 डी के पैकेज-थ्री में समस्तीपुर शहर को जोड़ने वाले 2.1 किलोमीटर संपर्क पथ को हटाए जाने के मामले को सांसद ने गंभीरता से लिया था.

यह भी पढ़ें  अच्छी खबर : बिहार के सभी जिलों में बनेगा हेलीपैड, नाइट लैंडिंग के साथ बनेंगे हेलीपैड

2.1 किलोमीटर का संपर्क पथ का था प्रावधान
आपके जानकारी के लिए बता दे की औरंगाबाद से दरभंगा तक राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण द्वारा फोरलेन निर्माण का कार्य प्रस्तावित है. इस फोरलेन का नक्शा जब पास हुआ, तो उसमें समस्तीपुर शहरवासियों को इस फोरलेन से जोड़ने और जाम की समस्या नहीं हो, इसको लेकर 2.1 किलोमीटर का संपर्क पथ का प्रावधान किया गया था. इस लिंक रोड को फोरलेन से समस्तीपुर से ताजपुर जाने वाली एसएच- 49 में ठीक छठे किलोमीटर पर मिलाया जाना था. इससे समस्तीपुर शहर की 90 प्रतिशत आबादी को फोरलेन से सीधा कनेक्टिविटी मिल जाती. लेकिन एनएचएआइ ने पैकेज-थ्री का जो टेंडर निकाला, उसमें इस लिंक रोड को डिलीट कर दिया था.

यह भी पढ़ें  Bihar B.Ed. Admission 2022: 25 अप्रैल से नामांकन के लिए खुलेगा पोर्टल, जानें पूरी डिटेल्स