बिहार में कुत्ते की शादी में आए 400 बाराती, विवाह देखने के लिए पहुंचे कई गांव के लोग

सोशल मीडिया पर इन दिनों बिहार के पूर्वी चंपारण जिले के मोतिहारी (Motihari) में हुई एक अनोखी शादी की काफी चर्चा है. खास बात यह है कि यहां के मजूराहा गांव में दो बेजुबानों की धूमधाम से शादी (Marriage) करवाई गई. बीते शुक्रवार की रात कल्लू नाम के कुत्ते की बसंती नामक कुतिया के साथ हिंदू रीति-रिवाज से शादी करवाई गई. दोनों जानवरों की शादी (Dog Marriage) के लिए बाकायदा मंडप बनाया गया था और उसकी सजावट की गई थी. बैंड और बाजे के साथ कुत्ते की बारात निकाली गई. शादी में डीजे की धुन पर लोगों ने जमकर डांस भी किया.

यह भी पढ़ें  अच्छी खबर : पेट्रोल-डीजल की कीमत होगी कम! बोले पीएम मोदी- VAT घटाएं राज्य सरकारें

बताया जा रहा है की इस अनोखी शादी में शामिल हुए लगभग 400 लोगों के लिए खाने-पीने का इंतजाम किया गया था. शादी करवाने वाले पंडित धर्मेंद्र कुमार पांडेय ने कहा कि कुत्ता और कुतिया की शादी सभी को करानी चाहिए क्योंकि यह भैरव के रूप होते हैं. इस तरह की शादी कराने से मनवांछित फल की प्राप्ति होती है और सभी पाप धुल जाते हैं. वहीं, यह शादी करवाने वाले नरेश सहनी ने बताया कि मेरी एक मन्नत पूरी हुई है इसलिए मैंने कुत्ता और कुतिया की शादी करवाने का निश्चय किया. इन दोनों जानवरों को हमने ही पाला-पोसा है. इनकी शादी पूरे हिंदू रीति-रिवाज से हम विधिवत संपन्न करेंगे.

यह भी पढ़ें  बिहार के दो यूनिवर्सिटी में 716 पदों पर निकली भर्ती, जल्दी करें अप्लाई

आपको बता दे की कल्लू और बंसती की शादी की बात जिसने भी सुना वो कौतूहलवश इसे देखने यहां चला आया. ग्रामीण इस अजब-गजब शादी के बारे में काफी चर्चा कर रहे हैं. उन्होंने बताया कि इस तरह की शादी हमने अपने जीवनकाल मे पहली बार देखी है, यह अद्भुत है. ऐसी शादी देख कर काफी अच्छा लग रहा है.