विश्व बैंक की टीम करेगी बिहार की सड़कों का निरीक्षण, गड़बड़ी मिली तो होगी कार्रवाई

बिहार में अब सड़को के काम में अब कोई गड़बड़ी नही होगी. बता दे की मुख्यमंत्री ग्राम संपर्क योजना की सड़कों में गड़बड़ी पाये जाने पर इंजीनियरों और ठेकेदारों पर कार्रवाई होगी. इन सड़कों का स्थल निरीक्षण विश्व बैंक की मिशन टीम बहुत जल्द करेगी. इस टीम में विश्व बैंक के टास्क टीम लीडर, तकनीकी विशेषज्ञ, पर्यावरण एवं सामाजिक विशेषज्ञ, प्रोक्योरमेंट स्पेशलिस्ट, ऑडिट एक्सपर्ट भी शामिल होंगे.

मिली थी कई गड़बड़ियां

खबरों की माने तो पिछले महीनों में भी विश्व बैंक की सामाजिक एवं पर्यावरण टीम सहित तकनीकी टीम ने विश्व बैंक के सहयोग से चलने वाली मुख्यमंत्री ग्राम संपर्क योजना की सड़कों का निरीक्षण कर कई गलतियाें को पकड़ी थीं. टीम ने ग्रामीण कार्य विभाग के समस्तीपुर, चकिया, मोतिहारी, मुजफ्फरपुर पश्चिमी, मुजफ्फरपुर पूर्वी-1 और महुआ कार्य प्रमंडलों का दौरा किया था. इसके बाद सड़कों को ठीक करने का ग्रामीण कार्य विभाग के अधिकारियों व इंजीनियरों को निर्देश दिया था.

यह भी पढ़ें  Bihar Weather: बिहार में आंधी -तूफान के साथ भारी बारिश के आसार, जानें अपने जिलों का हाल

पहले, दूसरे और तीसरे बैच के सड़कों की होगी जांच

आपको बता दे की विभाग ने सभी कार्यपालक अभियंताओं को निर्देश पर अमल करने के लिए कहा है. सूत्रों के अनुसार ग्रामीण कार्य विभाग के अंतर्गत विश्व बैंक की सहयोग से मुख्यमंत्री ग्राम संपर्क योजना के पहले, दूसरे और तीसरे बैच के तहत सड़कों का निर्माण और मॉनीटरिंग किया जा रहा है. इसके तहत करीब 33 हजार 900 किमी लंबाई में सड़कों और 321 पुलों का निर्माण करीब 27 हजार 904 करोड़ रुपये की लागत से करने की मंजूरी दी गयी है.