पटना मेट्रो के कॉरिडोर-2 पर पहले बनेंगे अंडरग्राउंड स्टेशन, फिर रूट लाइन, काम शुरू

बिहार वासियों का सपना अब जल्द ही साकार होने वाला है. बता दे की पटना मेट्रो के प्रायोरिटी कॉरिडोर (कॉरिडोर-2) पर एलिवेटेड के बाद अब अंडरग्राउंड रूट पर भी तेजी से काम शुरू हो गया है. इसके एलिवेटेड रूट मलाही पकड़ी से आइएसबीटी पर पहले ही करीब आधे से अधिक पिलर तैयार कर लिये गये हैं. अब इसके अंडरग्राउंड रूट पटना जंक्शन से फ्रेजर रोड, गांधी मैदान, अशोक राजपथ होते हुए राजेंद्र नगर पर भी घेराबंदी कर काम की गति तेज कर दी गयी है.

भूमिगत स्टेशन का निर्माण शुरू

खबरों की माने तो अंडरग्राउंड रूट पर सबसे पहले स्टेशनों का निर्माण किया जायेगा. इसके लिए आकाशवाणी, गांधी मैदान, विश्वविद्यालय और मोइनुल हक स्टेडियम के पास खुदाई चल रही है. तकनीकी कार्य पूरा होने के बाद यहां पर भूमिगत स्टेशन का निर्माण शुरू हो जायेगा. यहां मिट्टी जांच का काम पहले ही पूरा कर लिया गया है.

करीब दो हजार करोड़ रुपये से बनेंगे अंडरग्राउंड स्टेशन

आपको बता दे की कॉरिडोर-2 के एलिवेटेड रूट पर स्टेशनों का निर्माण करीब 528 करोड़ रुपये की लागत से होगा. वहीं, अंडरग्राउंड रूट के स्टेशनों के निर्माण पर करीब दो हजार करोड़ रुपये खर्च करने की योजना बनायी गयी है. इस रूट पर बनने वाले 12 स्टेशनों में सात स्टेशन पटना जंक्शन, आकाशवाणी, गांधी मैदान, पीएमसीएच, विश्वविद्यालय, मोइनुल हक स्टेडियम औरराजेंद्र नगर अंडरग्राउंड, जबकि पांच स्टेशन मलाही पकड़ी, खेमनीचक, भूतनाथ, जीरो माइल और न्यू आइएसबीटी एलिवेटेड हैं. अंडरग्राउंड स्टेशन का निर्माण पूरा होने के बाद ही रूट लाइन निर्माण की प्रक्रिया शुरू होगी.