बिहार का मोटा भाई : 30 की उम्र में 200 किलो वजन, जानें क्या है कटिहार के रफीक की डाइट

साथियों आए दिन सोशल मीडिया पर कुछ न कुछ वायरल होते रहता है. बता दे की बिहार के कटिहार जिले में रफीक अदनान की पहचान बतौर मोटा भाई है. कटिहार जिले के मनसाही जयनगर के रहने वाले रफीक पेशे से अनाज व्यापारी है. मोटा भाई रफीक महज 30 साल के हैं, लेकिन उनका वजन लगभग 2 क्विंटल यानी 200 किलो है. इतना ही नहीं रफीक एक बार में 15 लोगों के बराबर खाना खा लेते हैं. उनका डाइट सुनकर आप भी दांतों तले अंगुली दबा लेंगे. रफीक एक दिन में 3 किलो चावल, 4 लीटर दूध, 2 किलो मटन-चिकेन, 2 किलो मछली और करीब 100 रोटी खा लेते हैं.

यह भी पढ़ें  बिहार में डाटा सेंटर के लिए मिला 817 करोड़ रुपए का निवेश, जाने क्या है शुरुआती योजना

खाने-पीने का शौकीन है रफीक

आपके जानकारी के लिए बता दे की खाने-पीने के शौकीन रफीक मोटापा जैसी लाइलाज बीमारी से ग्रस्त हैं. इनके बढ़ते वजन के कारण बुलेट जैसी दमदार और पावरफुल बाइक भी अब इनका बोझ उठाने में हांफ जाती है. परिवारवाले का भी कहना है कि रफीक का मोटापा अब कई तरह की शारीरिक परेशानी और अभिशाप बनता जा रहा है. एक बीवी उनके लिए ठीक से खाना नहीं बना पाती थी. इसके चलते रफीक ने दूसरी शादी कर ली. लेकिन बढ़ते वजन के कारण दो-दो पत्नियों के बावजूद उनको कोई बाल-बच्चा नहीं है.

रफीक को दावत में नहीं बुलाते हैं लोग

खास बात यह है की कटिहार के जयनगर के रहने वाले ग्रामीण जौहर बताते हैं कि मोटापा और ज्यादा भोजन करने के कारण गांव के लोग अब रफीक को दावत में नहीं बुलाते हैं. आपको बता दे की रफीक अकेले ही तीन किलो चावल का भात, 2 से तीन किलो आटा की रोटी, डेढ़ से दो किलो मीट-मछली- चिकेन खा जाते हैं. ऐसे में गांव के लोग रफीक को दावत देने से बचते हैं और कोई न कोई बहाना बनाकर उसे दावत में नहीं बुलाते हैं.

यह भी पढ़ें  अच्छी खबर : बिहार के आईटी विभाग को 817 करोड़ रुपये के निवेश का प्रस्ताव मिला, पूरे बिहार में स्थापित होंगे डाटा सेंटर