चंपारण को नीतीश कुमार का एक और उपहार, वाल्मीकिनगर में बनेगा सभागार और गेस्ट हाउस, जानें कैसा होगा परिसर

बिहार वासियों को बिहार की नितीश सरकार एक बहुत ही बड़ा तोहफा देने जा रही है. बता दे की मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने चंपारण वासियों को एक और उपहार दिया है. चंपारण को एक पर्यटन केंद्र के रूप में विकसित करने के लिए नीतीश कुमार की सरकार लगतार काम कर रही है. प्रकृति की गोद में बसे वाल्मीकिनगर तक पर्यटकों को न सिर्फ ले जाने बल्कि सरकार उनके वहां ठहरने की भी विश्वस्तरीय व्यवस्था करने जा रही है. जानकारों की माने तो अमूमन दक्षिण बिहार आनेवाले पर्यटक चंपारण जैसी जगहों पर इसलिए नहीं जा पाते हैं कि वहां ठहरने की सही व्यवस्था नहीं है और सुबह जाकर शाम में पटना लौट आना काफी थकान भरा सफर हो जाता है.

यह भी पढ़ें  Amazon ने बिहार के बेटा अभिषेक को दिया पूरे 1 करोड़ 8 लाख का बड़ा पैकेज, घरों में ख़ुशी का माहोल

25 एकड़ में बनेगा सभागार और गेस्ट हाउस

आपको बता दे की बिहार में नीतीश कुमार की सरकार ने फैसला किया है कि बाल्मीकिनगर के 25 एकड़ भू-भाग में आधुनिक एवं उच्च कोटि का वाल्मीकि सभागार और गेस्ट हाउस का निर्माण किया जाएगा. वाल्मीकि सभागार एंड गेस्ट हाउस का निर्माण शुरू कराने के लिए सचिव, भवन निर्माण विभाग की अध्यक्षता में वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से समीक्षात्मक बैठक भी हुई है.

परिसर में इसका रखा जायेगा ख्याल

बताया जा रहा है की वाल्मीकि सभागार एंड गेस्ट हाउस निर्माण में बेहतर ड्रेनेज सिस्टम, जंगली जानवरों से सुरक्षा हेतु समुचित प्रबंध, फायर सेफ्टी आदि की बेहतर व्यवस्था के साथ प्राकृतिक रौशनी, वायु की ज्यादा से ज्यादा उपलब्धता रहेगी. वाल्मीकि सभागार एंड गेस्ट हाउस का निर्माण हो जाने से पश्चिम चम्पारण जिले में बड़े आयोजनों के लिए सुलभ स्थल उपलब्ध हो पाएगा.

यह भी पढ़ें  असम में बाढ़ से बिहार में रेल सेवा प्रभावित, 15 जुलाई तक 12 से ज्यादा ट्रेनें रद्द; देखें पूरी लिस्ट