apanabihar.com2 16

बिहार के लोगों को बहुत जल्द दूसरा चिड़ियाघर का भी दीदार करने को मिलेगा. बता दे की बिहार सरकार अररिया में बंदरों को लिए बगीचा बनाएगी और अररिया में ही नया चिड़ियाघर भी बनेगा। सोमवार को पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री नीरज बबलू ने विधानसभा में यह घोषणा की। वे विभाग के बजट पर सरकार का पक्ष रख रहे थे। उन्होंने बताया कि रानीगंज में बंदरों के लिए 10 एकड़ में बगीचा बनाया जाएगा। यहां बिहार के बंदरों को रखा जाएगा। इसी तरह अररिया वन प्रमंडल फारबिसगंज, अररिया में चिड़ियाघर बनाया जाएगा। यह बिहार का दूसरा चिड़ियाघर होगा और 289 एकड़ में फैला होगा।

आपको बता दे की मंत्री ने कहा कि इस समय नीलगाय और बंदरों से लोग परेशान हैं। ये बड़ी मात्रा में फसलों को क्षति पहुंचा रहे हैं। इसी को ध्यान में रखकर नीलगायों की नसबंदी की योजना है। इनकी नसबंदी कराकर इन्हें जंगलों में छोड़ा जाएगा जबकि बंदरों के लिए एक विशेष बगीचा बनेगा। बंदरों को वहीं रखा जाएगा और वहां उनके खाने-पीने की पूरी सुविधा वहीं उपलब्ध रहेगी। मंत्री ने बताया कि वीरपुर में मानसरोवर झील को पर्यटक स्थल

खास बात यह है की उन्होंने कहा कि बिहार सरकार वृक्षारोपण को लेकर भी बेहद गंभीर है ताकि हम पर्यावरण को संरक्षित कर सकें। वर्ष 2009 से अबतक 30 करोड़ पौधे लगाए जा चुके हैं। पिछले साल 2.97 करोड़ पौधे लगाए गए हैं। अगले साल हमने 5 करोड़ पौधे लगाने का टारगेट तय किया है।

Raushan Kumar is known for his fearless and bold journalism. Along with this, Raushan Kumar is also the Editor in Chief of apanabihar.com. Who has been contributing in the field of journalism for almost 4 years.