बिहार के लोग अब सस्‍ते में खरीद सकेंगेे पुरानी गाड़‍ियां, सरकारी एजेंसी के जरिए होगी आनलाइन नीलामी

बिहार के वैसे लोग जो कम कीमत पे बढ़िया गाड़ी खरीदना चाहते है. उनके लिए बहुत ही अच्छी खबर है. खास बात यह है की वह भी सरकार की एजेंसी से। बिहार में शराब के साथ पकड़ी गई गाडिय़ों की अब ई-नीलामी होगी। इसका मतलब है की कहीं के भी लोग किसी भी जिले के वाहन की नीलामी में आसानी से शामिल हो सकेंगे। वैसे तो बिहार के बाहर के लोग भी इस प्रक्रिया में शामिल हो सकते हैं। पटना में पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर इसकी शुरुआत की गई थी जिसके बाद अब बिहार के सभी 38 जिलों में इसे लागू करने का निर्णय लिया गया है। अभी तक ई-नीलामी के लिए 35 सौ से अधिक वाहनों का आनलाइन निबंधन भी किया जा चुका है।

यह भी पढ़ें  पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे से 2023 तक जुड़ेगा पटना-बक्सर और हैदरिया, अब छह घंटे में पहुंच सकेंगे पटना से दिल्ली

आपको बता दे की उत्पाद आयुक्त बी कार्तिकेय धनजी ने बताया कि ई-नीलामी के लिए केंद्र सरकार के उपक्रप मेटल स्क्रैप ट्रेड कारपोरेशन (एमएसटीसी) लिमिटेड का सहयोग लिया जा रहा है। वही इस प्रक्रिया से ई-नीलामी में कोई भी व्यक्ति आसानी से भाग ले सकता है। जानकारों की माने तो राजधानी पटना में वाहनों की ई-नीलामी की प्रक्रिया का सफल ट्रायल हुआ। इसके बाद विभाग ने पहले प्रमंडलीय मुख्यालयों और अब सभी जिलों में वाहनों की ई-नीलामी करने का निर्देश दिया है। 

  • ऐसे होगी वाहनों की ई-नीलामी
  • ई-नीलामी की प्रक्रिया के लिए सबसे पहले जब्त वाहन का विवरण एमएसटीसी की वेबसाइट पर डाला जाएगा। 
  • ई-नीलामी में शामिल होने के इच्छुक लोग मोबाइल नंबर व ओटीपी डाल कर अपना निबंधन करा सकते हैं।
  • नीलामी में शामिल होने वाले व्यक्ति चाहें तो स्थल पर जाकर वाहन को देखकर संतुष्ट भी हो सकते हैं। 
  • नियत तिथि व समय पर ई-नीलामी की प्रक्रिया की जाएगी। इसके लिए सभी निबंधित व्यक्तियों को पहले ही सूचना दे दी जाएगी। 
यह भी पढ़ें  बिहार के इस एक्सप्रेस-वे पर दो महीने के अंदर शुरू होगी काम, 2024 तक पूरा करने का लक्ष्य