अच्छी खबर : सहारा इंडिया में निवेशकों का पैसा लौटेगा! पटना हाई कोर्ट ने दिया आदेश- सुब्रतो राय हाजिर हों

अपने खर्चों और वित्तीय जरूरतों को सही से चलाने के लिए बचत करना बेहद जरूरी होता है। बचत करने से भविष्य में आकष्मिक जरूरतों को पूरी करने में काफी आसानी होती है. लेकिन इन अभी चीजो के बीच सहारा इंड‍िया (Sahara India) में लाखों लोगों के पैसे फंसे हुए हैं. बता दे की सहारा ग्रुप ऑफ कंपनीज (Sahara Group of Companies) के संस्थापक सुब्रतो राय (Subrato Rai) को पटना हाई कोर्ट (Patna High Court) ने अगली सुनवाई में स्वयं कोर्ट में उपस्थित होने का निर्देश दिया है.

बताते चले की बुधवार को सुनवाई के दौरान सहारा का पक्ष रखने वाले वरीय अधिवक्ता उमेश प्रसाद सिंह ने कोर्ट को बताया कि सहारा ने ग्राहकों को पैसा लौटाने के लिए कई विकल्प तैयार किए हैं. कोर्ट ने उनकी दलीलों को सुनने के बाद नामंजूर कर दिया और सुब्रतो राय को सशरीर हाजिर होने का आदेश दे दिया.

यह भी पढ़ें  बिहार के इन 18 जिलों में 822 करोड़ रुपये से बनेंगे सड़क और पुल, जानिए किन जिलों को मिलेगा लाभ

सहारा के रवैये पर हाई कोर्ट ने जताई नाराजगी : आपको बता दे की पटना हाई कोर्ट ने सहारा इंडिया के प्रमुख सुब्रतो राय को हाजिर होने के लिए 11 मई की तारीख दी है. वहीं दूसरी ओर न्यायाधीश संदीप कुमार की एकलपीठ ने सहारा के रवैये पर नाराजगी भी जताई. बता दें कि कोर्ट ने पिछली सुनवाई पर यह जानकारी मांगी थी कि सहारा इंडिया कंपनी बताए कि वह बिहार के निवेशकों का पूरा पैसा कब तक और किस तरह से देगी.

27 अप्रैल तक मांगा गया था जवाब : आपको मालूम होगा की पिछली बार जब इस मामले में पटना हाई कोर्ट में सुनवाई हुई थी तो 27 अप्रैल तक स्पष्ट रूप से जवाब मांगा गया था. कल बुधवार को जब कोर्ट में फिर सुनवाई हुई तो सहारा इंडिया का पक्ष रखने वाले वरीय अधिवक्ता की दलीलों से संतुष्ट नहीं होने के बाद कोर्ट ने यह आदेश दिया है. पिछली बार कोर्ट ने सीधे कहा था कि 27 अप्रैल तक कंपनी यह बताए कि जनता का पैसा कब तक लौटाया जाएगा जो कंपनी की विभिन्न स्कीमों में उपभोक्ताओं द्वारा जमा किया गया है.

यह भी पढ़ें  Bank Holidays In May 2022 : मई में 13 द‍िन बंद रहेंगे बैंक, RBI ने जारी की ल‍िस्‍ट, चेक करें लिस्ट