बिहार के डाकघरों में अगले माह से मिलेगी इ-बैंकिंग की सुविधा, इ-पेमेंट करना होगा आसान

बिहार में डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा देने के लिए बहुत ही पहल है. बता दे की बिहार में मई के पहले सप्ताह से डाकघर के करोड़ों खाताधारकों को इ-बैंकिंग की सुविधा मिलनी शुरू हो जायेगी. इसके बाद डाकघर के खाता धारक भी गूगल पे से शीघ्र भुगतान कर पायेंगे. इसके बाद पेंशन व मनरेगा के श्रमिकों को सबसे से अधिक लाभ होगा. इसके लिए सिस्टम को अपडेट करने का काम शुरू हो चुका है. इ-बैंकिंग सेवा में निफ्ट को भी शामिल किया गया है.

बैंकों की तर्ज पर इ-बैंकिंग की सुविधा : आपको बता दे की डाक विभाग ग्राहकों को यह सेवा मई के पहले सप्ताह में उपलब्ध कराने जा रहा है. डाकघर की बचत बैंक में गांव के लोग छोटी-छोटी राशि जमा करते हैं. पेंशन डाकघर के बचत खाते में आती है. किसान विकास पत्र व डाकघर की अन्य बचत योजना के पूरे होने पर डाकघर के बचत खाता में रुपये जमा कर देते हैं. डाक विभाग बचत खाताधारकों को अन्य बैंकों की तर्ज पर इ-बैंकिंग की सुविधा उपलब्ध कराने जा रहा है.

यूजर आइडी उपलब्ध करवाया जायेगा : बताया जा रहा है की इसके लिए बचत खाता धारकों को मोबाइल पर एप डाउन लोड करना होगा. पंजीयन कराने के बाद एसएमएस द्वारा यूजर आइडी उपलब्ध करवाया जायेगा. इसके बाद ग्राहक गूगल पे, फोन पे के अलावा अन्य इ-पेमेंट कर पायेंगे. इ-बैंकिंग द्वारा डाकघर में जमा कैश को किसी बैंक के खाते में भेज सकेंगे. पेंशनधारक डाकघर से रुपये निकालने के बजाय इ-पेमेंट कर दवाई आदि मंगा सकते हैं.