बिहार के इन स्टेशनों पर खोले जाएंगे दवा काउंटर, यात्रा के दौरान रेलयात्रियों को इलाज के साथ मिलेंगी दवाएं

ट्रेन से सफर करने वाले यात्रियों के लिए बहुत ही बड़ी खबर है. बता दे की रेल सफर के दौरान तबीयत खराब होने के बाद घबराने की जरूरत नहीं है. इलाज के साथ-साथ दवाएं भी उपलब्ध करायी जायेंगी. रेलवे अपने यात्रियों को एक से बढ़ कर एक योजना का लाभ दे रहा है. यहीं नहीं, उल्टी, दस्त, बुखार और अन्य छोटी बीमारियों के लिए दवाएं भी दी जायेंगी. इसके लिए रेलवे ने एक रणनीति तैयार की है. अब रेलवे स्टेशनों के प्लेटफॉर्मों पर दवाओं के लिए स्पेशल काउंटर खोले जायेंगे.

रेलवे बोर्ड ने इसकी तैयारी शुरू कर दी : आपको बता दे की दवा के साथ-साथ काउंटर पर ओआरएस का घोल भी मिलेगी. रेलवे बोर्ड ने इसकी तैयारी शुरू कर दी है. रेलवे अधिकारियों ने बताया कि सब कुछ ठीक-ठाक रहा तो वित्तीय वर्ष 2022-23 में गया रेलवे स्टेशन सहित पांच रेलवे स्टेशनों पर रेलयात्रियों के लिए दवा का स्पेशल काउंटर खोले जायेंगे. पहले रेल सफर करने के दौरान बीमारी होती थी तो रेलयात्रियों को परेशानियों का सामना करना पड़ता था. लेकिन, इन परेशानियों को रेलवे अब जल्द से जल्द दूर करेगी.

यह भी पढ़ें  अच्छी खबर : 16 करोड़ 11 लाख रुपया की लागत से पूर्णिया और मुजफ्फरपुर में बनेगा खादी मॉल

इन स्टेशनों पर खुलेंगे दवा काउंटर : मीडिया रिपोर्ट की माने तो गया रेलवे स्टेशन सहित पांच रेलवे स्टेशनों पर दवा काउंटर खोलने की तैयारी रेलवे कर रहा है. हालांकि, पहले फेज में पूर्वोत्तर रेलवे के लखनऊ, गोरखपुर, छपरा, बनारस और गोंडा सहित अन्य रेलवे स्टेशनों पर दवा काउंटर खोलने की तैयारी शुरू होने जा रही है. बनारस के बाद गया रेलवे स्टेशन पर दवा का स्पेशल काउंटर खोले जायेंगे. दवा काउंटर खोलने से पहले लाइसेंस आदि की प्रक्रिया का काम शुरू किया जायेगा.