बिहार में दो स्टेट हाइवे और एक नेशनल हाइवे इस साल होगा तैयार, इन जिलों को होगा सीधा फायदा

बिहार वासियों को इस साल बहुत ही बड़ा तोहफा मिलने वाला है. बता दे की बिहार में इस साल रून्नी सैदपुर से भिसवा स्टेट हाइवे-87, कादिरगंज से खैरा स्टेट हाइवे-82 सहित गया से बिहारशरीफ एनएच-82 पर दिसंबर 2022 से आवागमन शुरू होने की संभावना है. इससे सीतामढ़ी, शिवहर, नवादा, जमुई, गया और नालंदा जिले के लोगों को यातायात की सुविधा में बढ़ोतरी होगी. तीनों सड़कों का करीब 234 किमी लंबाई में करीब 3212 करोड़ रुपये की लागत से निर्माण कार्य चल रहा है.

रुन्नी सैदपुर से भिसवा तक बन रही सड़क : आपको बता दे की बिहार के सीतामढ़ी जिले के रुन्नी सैदपुर से सुरसंड होते हुए भारत-नेपाल सीमा के पास भिसवा को जोड़ने वाले स्टेट हाइवे-87 का निर्माण मार्च 2021 में ही पूरा करने की समय -सीमा तय की गयी थी, लेकिन महामारी सहित अन्य वजहों से इसे पूरा करने में विलंब हुआ है. 67 किलोमीटर लंबे इस हाइवे की लागत 551 करोड़ है. इस हाइवे के बन जाने से सीता माता के जन्म स्थान नेपाल के जनकपुर जाने में आसानी होगी. साथ ही सीतामढ़ी-शिवहर जिले के इन पिछड़े इलाकों में आवागमन काफी आसान हो जायेगा.

यह भी पढ़ें  अब UP-Bihar की ट्रेनों में फिर से मिलेगा खाना, जानिए- कैसे ऑर्डर करें? कैटरिंग की शिकायत कैसे करें?

नवादा और जमुई जिले में बन रहा है एसएच-82 : मीडिया रिपोर्ट की माने तो स्टेट हाइवे संख्या-82 के अंतर्गत करीब 75 किमी लंबाई में नवादा जिले के कादिरगंज और जमुई जिले के खैरा में सड़क का तीन पैकेज में निर्माण कराया जा रहा है. इसे 2020 में ही पूरा करने का लक्ष्य था, लेकिन महामारी सहित अन्य वजहों से इसमें विलंब हुआ. अब इसे दिसंबर 2022 में पूरा करने की समय-सीमा तय की गयी है. इस सड़क के बनने से मध्य बिहार के नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में सड़क कनेक्टिविटी मजबूत होगी. साथ ही विकास योजनाओं को सुदूरवर्ती गांवों तक पहुंचाने में सुविधा होगी.

यह भी पढ़ें  बिहार के इस जिले के लोग सरकार को बेच रहे सोलर सिस्टम से तैयार बिजली, हर माह हो रही लाख रुपये की कमाई