अब डिप्टी CM तारकिशोर प्रसाद ने बिहार में उठाई ‘योगी मॉडल’ की मांग, तेजस्वी ने कहा…

बिहार की राजनीति में हलचल तेज हो गई है। बता दे की उत्तर प्रदेश में बीजेपी की दोबारा सरकार बनने के बाद बिहार की सियासत (Bihar Politics) में भी गर्माहट आ गई है. बीजेपी के नेता और प्रवक्ता गाहे-बेगाहे बिहार में योगी मॉडल (Yogi Model) की मांग उठाते रहते हैं. मगर अब उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद (Tarkishore Prasad) ने बिहार में योगी मॉडल की बात उठा कर फिर सियासत में गर्मी पैदा कर दी है. खबरों की माने तो चुनाव प्रचार के लिए छपरा (Chhapra) पहुंचे तारकिशोर प्रसाद से जब पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी (Rabri Devi) के बयान पर योगी मॉडल की जरूरत के बारे में सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि बिहार में नीतीश सरकार (Nitish Government) बेहतर काम कर रही है, शासन-प्रशासन अपराध रोकने में सक्षम हैं. हालांकि उन्होंने योगी मॉडल पर भी बल दिया.

आपको बता दे की बिहार के डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद के बयान का समर्थन करते हुए बीजेपी के प्रवक्ता राम सागर सिंह ने इससे एक कदम आगे बढ़कर कहा कि यूपी का योगी मॉडल वही है जो बिहार में 2005 से 2010 तक नीतीश मॉडल था. वहीं, जेडीयू के प्रधान महासचिव के.सी त्यागी ने कहा कि बिहार का मॉडल पिछले 16 वर्षों से सफल है. नीतीश सरकार ने स्पेशल कोर्ट का गठन कर 80 से ज्यादा अपराधियों को सजा दिलाई है. उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में योगी सरकार ने फिलहाल घोषणाएं ही की हैं, लागू नहीं हुआ है.

तेजस्वी ने योगी मॉडल को बताया समझ से परे : बताते चले की बिहार के उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद के द्वारा बिहार में भी योगी मॉडल की मांग उठाने के बाद विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने सवाल खड़ा करते हुए कहा है कि यूपी का योगी मॉडल क्या है, यह कैसा मॉडल है, यह समझ से परे है. बीजेपी को अब तक क्या बिहार में सर्कस मॉडल लग रहा था. अगर बुलडोजर चलवाना ही योगी मॉडल है तो फिर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को बेरोजगारी और क्राइम पर बुलडोजर चलाना चाहिए था.