बिहार में जल्द शुरू होगा सर्वे, विवाद रोकने के लिए चेन से नहीं बल्कि ETS मशीन से होगी जमीन की मापी

बिहार में अब ईटीएस मशीन से जमीन की मापी की जाएगी। बताया जा रहा है की इससे जमीन संबधित मामलों का जल्द ही निपटारा हो सकेगा। मशीन से मापी करने पर एक इंच और फूट की तो बात छोड़िए, एक सेमी. का भी फर्क नहीं आएगा। खास बात यह है कीबिहार के भागलपुर जिले में जमीन का सर्वे जल्द शुरू होगा। जमीन पैमाइश में विवाद को रोकने के लिए अब ईटीएस (इलेक्ट्रॉनिक टोटल स्टेशन) मशीन का उपयोग किया जाएगा। अब जरीब चेन की जगह ईटीएस मशीन लेगी। इसकी शुरूआत भागलपुर जिले में भी कर दी गयी। इसके लिए जिला प्रशासन ने आठ मशीनों की खरीद की है। गुरुवार को तीन अनुमंडल, चार अंचल और एक राजस्व शाखा को मशीन सौंप दी गयी। डीएम को भी मशीन के बारे में जानकारी दी गयी। 

यह भी पढ़ें  बिहार में अगले दो दिन बाद तेज आंधी-बारिश के साथ ठनका गिरने की आशंका, मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट

आपको बता दे की जिला प्रशासन ने 48 लाख रुपये में आठ ईटीएस मशीन की खरीद की गयी है। गुरुवार को एक राजस्व शाखा के अलावा भागलपुर सदर, नवगछिया, कहलगांव अनुमंडल और नारायणपुर, गोपालपुर, सुल्तानगंज और पीरपैंती अंचल को दिया गया है। अपर समाहर्ता राजेश झा राजा ने बताया कि जैम पोर्टल के माध्यम से मशीन की खरीद की गयी है। जिले को 48 लाख रुपये आवंटन मिला था। 

जानकारों की माने तो अगले वित्तीय वर्ष में आवंटन मिलने के बाद मशीन की खरीद कर बचे अंचलों को दिया जाएगा। खास बात यह है की इससे जमीन की पैमाइश में एक सेमी का भी फर्क नहीं पड़ेगा। पैमाइश में भी तेजी आएगी। कंपनी के तकनीकी विशेषज्ञों द्वारा तीन दिन तक सभी सीओ, डीसीएलआर और राजस्व अधिकारी को प्रशिक्षण दिया गया है। गुरुवार को ट्रायल के तौर पर रक्शाडीह में जमीन की पैमाइश की गयी।

यह भी पढ़ें  अब बिहार में सोफे पर सो कर सिनेमा देखने का लीजिए मज़ा, टिकट की कीमत भी बहुत कम है