बिहार में शराब की जगह ताड़ी को बढ़ावा देने में जुटी सरकार, जाने कब से शुरू होगी बिक्री 

बिहार में पूर्ण रूप से शराब पर सरकार बैन लगाये हुए है | अब ऐसे में अवैध रूप से शराब वितरण करने वाले लोगों को बहुत ही श्ख्ती से नज़र रखती है पकड़ाने पर उसे सजा भी दी जाती है | खास बात यह है की बिहार सरकार लोगों के लिए नीरा (Neera) उपलब्ध करा रही है. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी अपनी समाज सुधार यात्राओं के दौरान नीरा की महत्ता पर जोर देते देखे गये थे. इसी कड़ी में राजधानी पटना में एक साथ बड़े पैमाने पर नीरा क्रेंद्र खोलने की योजना पर काम चल रहा है. खबरों की माने तो योजना है कि अप्रैल के पहले सप्ताह से जिले के शहरी और ग्रामीण क्षेत्रो में एक साथ 51 केंद्रों से नीरा की बिक्री शुरू कर दी जाए.

यह भी पढ़ें  अच्छी खबर : पटना से नेपाल और बेतिया जाना होगा आसान, बेतिया की दूरी रह जाएगी मात्र 200 KM

आपको बता दे की इस संबंध में जिलाधिकारी डा.चंद्रशेखर सिंह की अध्यक्षता में बैठक आयोजित कर जिले में खोले जाने वाले नीरा बिक्री केंद्रों के बारे में विस्तृत चर्चा की गई. बैठक के दौरान शराबबंदी कानून को सख्ती से लागू करने पर भी जोर दिया गया. खास बात यह है की इस दौरान जिलाधिकारी ने कहा कि राजधानी के नगर निगम क्षेत्र के सात  जगहों जैसे ईको पार्क, संजय गांधी जैविक उद्यान के गेट संख्या एक और  गेट संख्या दो,  मीठापुर, गांधी मैदान के उद्योग भवन के पास सगुना मोड़,और चक बैरिया बस स्टैंड के पास नीरा बिक्री केंद्र खोलने पर सहमति बनी.

यह भी पढ़ें  यात्रीगण ध्यान दें! ECR ने की 48 ट्रेनें रद्द, गरीब रथ, बिहार संपर्क क्रांति समेत कई गाड़ियां शामिल, देखें लिस्ट

अप्रैल के पहले हफ्ते से शुरू होगी बिक्री : वही इस पर पटना डीएम ने कहा कि ग्रामीण और शहरी क्षेत्र में अप्रैल के प्रथम सप्ताह से नीरा की बिक्री शुरू हो जाएगी. प्रखडों मे 44 नीरा बिक्री केंद्र शुरू किए जाएंगे जबकि पटना नगर निगम क्षेत्र में 7 बिक्री केंद्र शुरू होंगे. इसमे  हर प्रखंड में औसतन  2 से 3 बिक्री केंद्र खोले जाएंगे. औसतन 40 से 50 लीटर प्रतिदिन एक सेंटर से नीरा की बिक्री का लक्ष्य रखा गया है.