बख्तियारपुर-मोकामा फोरलेन इस वर्ष पूरा होगा , पटना से बक्सर तक फर्राटा भरते पहुंचेगी गाड़ियां

बिहार के लोगों के लिए यह बहुत ही अच्छी खबर है. जैसा की हम सब जानते है की बिहार में इस समय सड़को का काम बहुत ही तेजी से चल रहा है राज्यसभा में केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने बताया कि बिहार के तीन फोनलेन का काम जल्द पूरा हो जायेगा. बताया जा रहा है की इसमें पटना-गया-डोभी फोरलेन 31 मार्च, 2023, आरा-मोहनिया फोनलेन जुलाई 2023 के अलावा कोइलवर-भोजपुर-बक्सर फोरलेन और बख्तियारपुर-मोकामा फोरलेन इस वर्ष के अंत तक तैयार हो जायेगा.

आपको बता दे की केंद्रीय मंत्री ने बताया कि एक हजार 390 करोड़ रुपये की लागत से बन रहे आरा-मोहनिया फोरलेन की भौतिक प्रगति 40 प्रतिशत एवं वित्तीय प्रगति 35 प्रतिशत है. कोइलवर-भोजपुर फोरलेन (825 करोड़) का 80 प्रतिशत कार्य पूरा हो चुका है तथा भोजपुर-बक्सर फोरलेन का कार्य 72 प्रतिशत तक पूरा कर लिया गया है. खबरों की माने तो 837 करोड़ की लागत से बन रहे बख्तियारपुर-मोकामा फोरलेन का कार्य अभी 40 प्रतिशत ही पूरा हो पाया है, लेकिन इस वर्ष के अंत तक यह पूरा कर लिया जायेगा.

यह भी पढ़ें  बिहार : 10 मई से बदल रहा है इन ट्रेनों का टाइम, रोज चलने वाले नोट कर लें समय

सेतु पर लगा भीषण जाम : बताया जा रहा है की उत्तर बिहार की लाइफ लाइन महात्मा गांधी सेतु पर बुधवार महज आधा घंटे का सफर तय करने में दो घंटा लग रहा था.खास बात यह है की होली को लेकर सेतु पर वाहनों का दवाब बढ़ने और हाजीपुर की तरफ वाहन खराब होने की वजह से जाम यह समस्या गंभीर हो गयी थी. स्थिति यह थी कि सेतु पर नवनिर्मित पश्चिमी लेन से लेकर जीरो माइल बड़ी पहाड़ी तक लगभग डेढ़ किलोमीटर तक लंबा जाम लगा था. सेतु पर यातायात पुलिसकर्मियों की मानें तो सेतु पर हाजीपुर की तरफ पाया संख्या 28 के पास एक वाहन खराब हो गया था. इस वजह से जाम की स्थिति बन गयी थी. शाम लगभग तीन बजे से आरंभ हुए जाम का यह सिलसिला देर शाम तक सेतु पर कायम रहा.

यह भी पढ़ें  अच्छी खबर : पटना एयरपोर्ट पर शुरू हुई एंबुलिफ्ट सर्विस, जानें क्या है सेवा और मरीज-बुजुर्गों को कैसे होगा फायदा