apanabihar.com3 6

बिहार में बिजली की उत्पादन को लेकर बहुत ही अच्छी खबर है. बता दे की औरंगाबाद स्थित नबीनगर थर्मल पावर प्लांट के तीसरे और अंतिम यूनिट के सफलतापूर्वक ट्रायल पूरा होने के बाद अब प्रदेश में बिजली का संकट खत्म होगा. नबीनगर पावर जेनेरेटिंग कंपनी (NPGC) जो एनटीपीसी (NTPC) की पूर्ण स्वामित्व वाली कंपनी है, इसके 660 मेगावाट की तीसरी यूनिट का सफलतापूर्वक ट्रायल रविवार को पूरा हुआ. इस यूनिट ने 72 घंटे फुल लोड ट्रायल-रन ऑपरेशन को केंद्रीय विद्युत् विनियामक आयोग (CERC) के मानदंडों के अनुपालन के साथ सफलतापूर्वक कमीशन कर लिया. मुख्य कार्यकरी अधिकारी आर.के पांडेय ने बताया कि बिहार को इस यूनिट से अतिरिक्त 559 मेगावॉट की आपूर्ति जल्द होने लगेगी. नबीनगर पावर जेनेरटिंग कंपनी की कुल स्थापित उत्पादन क्षमता 1,320 से बढ़कर 1,980 मेगावॉट हो गयी है. इससे बिहार में बिजली की खपत में लगातार बढ़ रही मांग को पूरी करने में मदद मिलेगी.

Also read: मुंबई से बिहार आने वालों के लिए अच्छी खबर, चलेगी 92 समर स्पेशल ट्रेन

आपको बता दे की नबीनगर पावर जेनेरटिंग कंपनी के निदेशक शीतल कुमार के बताया कि टीम एनपीजीसी ने महामारी की चुनौतियों के बीच इस लक्ष्य को जिस टीम भावना और जुझारूपन के साथ हासिल किया है वो यादगार है. अब बिहार को नबीनगर पवार प्लांट से 1,122 मेगावाट की जगह 1,680 मेगावाट बिजली मिलेगी.

Also read: Special Train News: बिहार से इन राज्यों के लिए चलेगी स्पेशल ट्रेनें, देखें लिस्ट

जानकारी के लिए बता दे की पहली और दूसरी यूनिट का वाणिज्यिक प्रचालन छह सितंबर, 2019 और 23 जुलाई, 2021 को केन्द्रीय ऊर्जा मंत्री आर.के सिंह के द्वारा बिहार के ऊर्जा मंत्री की मौजूदगी में किया गया था. इससे बिहार को वर्तमान में तय आवंटन के हिसाब से 1,122 मेगावाट से भी अधिक विद्युत की निरंतर आपूर्ति की जा रही है.

Also read: बिहारवासियों के लिए खुशखबरी, इन तीन 3 जिलों में बनेगा 160 किलोमीटर का नया हाईवे

NTPC से बिहार को बिजली का आवंटन बढ़ा : बताया जा रहा है की बिजली के क्षेत्र के बिहार की मुश्किलें आसान हो गई हैं. नबीनगर पावर प्लांट के तीसरे यूनिट के सफल परीक्षण के बाद बिहार की बिजली के क्षेत्र की परेशानियां दूर होंगी. एनटीपीसी से बिहार को मिलने वाला आवंटन भी बढ़ गया है. पहले जहां बिहार को 5,362 मेगावाट बिजली मिलती थी वो अब बढ़कर 5,921 मेगावाट हो गया है.

Also read: Train News: झारखंड से बिहार आने जाने में अब नही होगी परेशानी, चलेगी स्पेशल ट्रेन

Raushan Kumar is known for his fearless and bold journalism. Along with this, Raushan Kumar is also the Editor in Chief of apanabihar.com. Who has been contributing in the field of journalism for almost 4 years.