बिहार बोर्ड मैट्रिक परीक्षा की कॉपियों की जांच 5 मार्च से, जाने पूरी खबर

बिहार में इस साल मैट्रिक के परीक्षा दे चुके बच्चे को रिजल्ट के लिए अब और दिन इंतजार नही करना पड़ेगा खबर आ रही है की बिहार बोर्ड मैट्रिक वार्षिक परीक्षा, 2022 की कॉपियों का मूल्यांकन शनिवार यानी की 5 मार्च से शुरू होगा. वही इसके लिए सारी तैयारियां पूरी कर ली गयी हैं. पूरे राज्य में करीब 169 मूल्यांकन केंद्र बनाये गये हैं. राजधानी पटना जिले में 12 मूल्यांकन केंद्र बनाये गये हैं. यहां दो हजार से अधिक शिक्षकों की प्रतिनियुक्ति भी कर दी गयी है. खास बात यह है की सभी शिक्षकों को शनिवार सुबह 7:30 बजे तक योगदान कर लेना है. वहीं, शिक्षकों को शुक्रवार को ही मूल्यांकन कार्य के लिए योगदान करना था. लेकिन कई शिक्षकों ने ज्वाइन नहीं किया है. अधिकतर शिक्षक शनिवार सुबह में ही मूल्यांकन केंद्र पर योगदान करेंगे. वहीं मूल्यांकन केंद्रों पर बिजली और लाइट की पर्याप्त व्यवस्था कर दी गयी है. इस बार उत्तरपुस्तिकाओं का मूल्यांकन दो शिफ्ट में रात नौ बजे तक होगा.

यह भी पढ़ें  बिहार के राजधानी पटना को मिलेगा शानदार सड़क, इन जगहों के लोगों को मिलेगा अधिक लाभ

मीडिया रिपोर्ट की माने तो बिहार बोर्ड मैट्रिक वार्षिक की उत्तरपुस्तिकाएं काफी संख्या में है. इनसे संबंधित परीक्षकों की काफी कमी है. वही कमी रहने के कारण इन विषयों की उत्तरपुस्तिकाओं का मूल्यांकन दो पालियों में किया जायेगा. इस विषयों का मूल्यांकन कार्य प्रथम पाली में आठ बजे से दोपहर दो बजे तक तथा द्वितीय पाली में तीन बजे से रात्रि नौ बजे तक किया जायेगा. इस विषय से जुड़े सह परीक्षकों, प्रधान परीक्षकों एवं अन्य कर्मियों को सुबह 7:30 बजे तक निर्धारित मूल्यांकन केंद्र में प्रवेश करना होगा. मूल्यांकन कार्य आठ बजे सुबह से शुरू हो जायेगा, जो शाम नौ बजे तक चलेगा. मूल्यांकन सीसीटीवी की निगरानी में होगी. उत्तरपुस्तिकाओं का मूल्यांकन पांच मार्च से 17 मार्च तक चलेगा.

यह भी पढ़ें  बिहार में नए नियोजित शिक्षकों को कितना मिलेगा वेतन, पढ़े पूरी डिटेल्स….

वही बिहार बोर्ड के सहयोग से मूल्यांकन केंद्र पर शिक्षकों की प्रतिनियुक्ति के साथ कंप्यूटर ऑपरेटरों की प्रतिनियुक्ति भी की गयी है. अंकों की ऑनलाइन इंट्री सेम डे कंप्यूटर पर की जायेगी. आपको बता दे की एक सेट पर मेकर्स और तीन कंप्यूटर के एक सेट पर चेकर्स द्वारा इंट्री की जायेगी. एक कंप्यूटर सेट पर कर्मी द्वारा एक पूरे बैग की इंट्री की जायेगी. दो बार चेक किया जायेगा. यदि इंट्री में कोई भी भिन्नता होती है, तो उसका निराकरण इवैल्युएशन निदेशक के द्वारा किया जायेगा.