बिहार में पेट्रोल के बाद अब बिजली होगी सस्ती, टैरिफ और स्लैब में बदलाव पर विचार कर रही बिहार की नीतीश सरकार

बिहार में ट्रोल पर वैट घटाने के बाद बिहार सरकार अब बिजली के टैरिफ और स्लैब में बदवाव पर विचार कर रही है. बिहार में बिजली कंज़्यूमर को आराम देने के लिए ऊर्जा विभाग आने वाले कुछ दिनों में बिजली बिल की दर में कमी की घोषणा कर सकती है. बिहार में बिजली सस्ता करने के लिए विभाग इस मामले पर बिजली कंपनियों से बात कर रही है. टैरिफ और स्लैब में बदलाव के लिए सरकार बिहार विद्युत विनियामक आयोग की सहमति लेने का प्रयास कर रही है.

आपको बता दे की बिहार ऊर्जा विभाग के सचिव सह सीएमडी संजीव हंस ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि अभी 90 श्रेणियों में टैरिफ हैं, हम लोग इसको कम करके तीन दर्जन तक लाने का प्रयास कर रहे हैं. बिहार में इससे बिजली दर की असमानता दूर होगी. आपको बता दे की इसके अलावा पांच स्लैब की जगह तीन स्लैब करने पर विचार चल रहा है. एक दर होने पर उपभोक्ता आसानी से समझ सकेंगे कि उन्होंने कितनी बिजली खपत की है.

यह भी पढ़ें  समस्तीपुर रेल मंडल में कई ट्रेनों के रूट बदले, 25 जून से छपरा होकर जाएगी सप्तक्रांति

जानकारी के अनुसार बिहार में स्मार्ट प्रीपेड मीटर के संबंध में श्री हंस ने साफ तौर पर कहा कि यह पहले की तुलना में उपभोक्ताओं के लिए अधिक लाभकारी है. पहले मीटर लगाने पर उपभोक्ताओं से पैसे लिए जाते थे, जबकि स्मार्ट मीटर कंपनी की ओर से नि:शुल्क लगाया जा रहा है. बिजली बिल की परेशानी दूर हो गई है. कंपनी ने यह प्रावधान किया है कि आठ साल तक एजेंसी स्मार्ट मीटर का रखरखाव भी करेगी.