नए साल में बिहार को मिल सकता है बुलेट ट्रेन का तोहफा, जानें प्‍लानिंग और रूट

बिहार के लोगों को नए साल में एक बहुत ही बड़ी खबर मिल सकती है. बता दे की भारत में कई रेल रूट पर बुलेट ट्रेन चलाने की योजना है. कई जगह तो इसको लेकर तैयारियां भी शुरू कर दी गई हैं, जबकि कुछ रेलखंड पर तीव्र रफ्तार वाली ट्रेन चलाने की योजना बनाई जा रही है. वाराणसी से हावड़ा के बीच भी 350 किलोमीटर प्रति घंटे की गति वाली बुलेट ट्रेन चलाने की प्‍लानिंग है. इसके लिए सर्वे का काम भी हो रहा है. सर्वेक्षण का काम पूरा होने के बाद इस प्रोजेक्‍ट पर आगे बढ़ा जाएगा. बुलेट ट्रेन के बिहार के कुछ शहरों से होकर भी गुजरने की संभावना है. इसके ठहराव के लिए बकायदा स्‍टेशन भी बनाए जाएंगे. इससे बिहार के लोगों को भी लाभ मिलेगा. अगर सबकुछ ठीक-ठाक रहा तो नए साल में बुलेट ट्रेन को लेकर बड़ी घोषणा हो सकती है.

यह भी पढ़ें  अच्छी खबर : बिहार में पुरानी पेंशन योजना लागू करने को लेकर तस्वीर साफ, शिक्षा मंत्री विजय चौधरी ने कही ये बात

बताया जा रहा है की अहमदाबाद-मुंबई बुलेट ट्रेन प्रोजेक्‍ट के बाद देश के कई और हिस्‍सों से भी तेज रफ्तार वाली ट्रेन चलाने की मांग उठने लगी. इसी क्रम में बिहार के आमलोगों और व्‍वसायियों ने भी बुलेट ट्रेन चलाने की मांग उठाई थी. अब उनकी यह मांग पूरी होती दिख रही है. दरअसल, इन दिनों वाराणसी-हावड़ा बुलेट ट्रेन प्रोजेक्‍ट पर काम चल रहा है. इस ट्रेन का रूट कुछ इस तरह से निर्धारित किया जा रहा है कि यह बिहार के 5 शहरों से होकर गुजरेगी. फिलहाल बुलेट ट्रेन के लिए स्‍पेशल रेलवे ट्रैक बिछाने की तैयारी चल रही है. इसके लिए सर्वे का काम किया जा रहा है.

यह भी पढ़ें  अगले 48 घंटे में उत्तर-पूर्व बिहार में बारिश व ठनके की आशंका,मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट

बिहार के इन शहरों से गुजर सकती है बुलेट ट्रेन : जानकारी के अनुसार वाराणसी-हावड़ा बुलेट ट्रेन प्रोजेक्‍ट के तहत 760 किलोमीटर लंबी हाई स्‍पीड रेलवे ट्रैक बिछाई जाएगी. योजना के मुताबिक, इस ट्रेन का रूट वाराणसी-पटना-बर्द्धमान-हावड़ा निर्धारित किया गया है. उम्‍मीद है कि यह बुलेट ट्रेन बिहार के बक्‍सर, आरा, पटना, बिहारशरीफ और नवादा होकर गुजरेगी. इन स्‍टेशनों पर बुलेट ट्रेन का ठहराव भी दिया जाएगा. फिलहाल नेशनल हाई स्‍पीड रेल कॉरपोरेशन लिमिटेड बुलेट ट्रेन के लिए खास स्‍टेशन और रूट को लेकर योजना बना रही है. सबकुछ ओके होते ही इसकी आधिकारिक घोषणा होने की उम्‍मीद है.