बिहार सरकार के मंत्री निति‍न नवीन ने कहा- अब और नहीं, 15 मई है आपके लिए अंतिम डेडलाइन

बिहार के पथ निर्माण मंत्री नितिन नवीन ने बिहार में चल रही महत्वपूर्ण मेगा पुल-पुलिया व सड़क परियोजनाओं की समीक्षा की। बुधवार को विभागीय सभागार में अपर मुख्य सचिव प्रत्यय अमृत सहित अन्य अधिकारियों की मौजूदगी में मंत्री ने आठ बड़ी परियोजनाओं की समीक्षा की। अधिकारियों को इन परियोजनाओं में तेजी लाने का निर्देश दिया।

आपको बता दे की बिहार के पथ निर्माण मंत्री नितिन नवीन ने महात्मा गांधी सेतु के जीर्णोद्धार कार्य को हर हाल में 15 मई 2022 तक पूरा करने को कहा। बिहार के पथ निर्माण मंत्री नितिन नवीन ने साफ कहा कि इस अवधि के बाद एजेंसी को अवधि विस्तार नहीं दिया जाएगा। उत्तर बिहार के लिए यह परियोजना लाइफलाइन है। महात्मा गांधी सेतु के कारण पटना शहर में जाम की समस्या लग रही है। इसलिए महात्मा गांधी सेतु का समय पर बनना नितांत आवश्यक है।

यह भी पढ़ें  बिहार में सस्ता हुआ पेट्रोल-डीजल, जानिये कैसे मिल रहा है पेट्रोल-डीजल?

बताया जा रहा है की इसमें किसी भी स्तर पर विलंब बर्दाश्त नहीं होगा। वहीं, गांधी सेतु के समानांतर बनने वाले नए पुल पर कहा कि अक्टूबर 2024 में इसे पूरा होना है। लेकिन मौजूदा काम धीमा है। एजेंसी को क्रैश कार्यक्रम बनाने का निर्देश देते हुए कहा कि इसे हर हाल में मार्च 2024 तक पूरा कर लिया जाए।

आठ बड़ी परियोजनाओं की हुई समीक्षा : विभागीय सभागार में मंत्री नितिन नवीन ने अपर मुख्य सचिव प्रत्यय अमृत व अन्य अफसरों की मौजूदगी में आठ बड़ी परियोजनाओं की समीक्षा की। एनएच 106 वीरपुर-बिहपुर में बन रहे फुलौत पुल का काम अब तक शुरू नहीं हो सका है। जनवरी के प्रथम सप्ताह में हर हाल में एजेंसी को काम शुरू करने को कहा गया। विक्रमशिला सेतु में निविदा का निष्पादन तेजी से करने को कहा गया। इस सेतु में वन्य संरक्षण अधिनियम के तहत कुछ मंजूरी मिलनी बाकी है।

यह भी पढ़ें  पहले दिन 25 हजार से अधिक अभ्यर्थियों को मिले नियुक्ति पत्र, पढ़े पूरी खबर…