विदेशो वाली एयरपोर्ट जैसी दिखेगी बिहार के पटना का एयरपोर्ट, नए टर्मिनल बिल्डिंग का 30 प्रतिशत काम पूरा

बिहार के पटना एयरपोर्ट का लुक अगले कुछ वर्षों में नए लुक में दिखेगा. बिहार के इस एयरपोर्ट के नए टर्मिनल बिल्डिंग का काम 30 प्रतिशत पूरा हो चुका है | अधिकारियों का दावा है कि दिसंबर 2023 तक बिहार के इस एयरपोर्ट का यह काम पूरा कर लिया जाएगा | बिहार में नए टर्मिनल भवन (New Terminal Building) के निर्माण हो जाने के बाद बिहार के राजधानी पटना एयरपोर्ट की क्षमता बढ़कर 80 लाख यात्री प्रति वर्ष हो जाएगी, जो वर्तमान में महज 45 लाख है. साथ ही यात्रियों की सुविधा भी पहले की तुलना में काफी बढ़ जाएगी | लेकिन अभी ऐसा होने में बिहार के पटना स्थित जय प्रकाश नारायण एयरपोर्ट को ऐसा बनाने में अभी दो साल की वक़्त लगेगी |

यह भी पढ़ें  बिहार में पर्यटन स्थलों पर बनेंगे सेल्फी प्वाइंट, विभाग ने जगह चिह्नित कर सभी जिलों से मांगी रिपोर्ट

आपको बता दे की बिहार के पटना एयरपोर्ट का नया टर्मिनल भवन जी प्लस टू (ग्राउंड प्लस टू) का बनाया जा रहा है, बेसमेंट में सिक्योरिटी, बैगेज, एयरपोर्ट हैंडलिंग रहेगा. जबकि ग्राउंड फ्लोर पर अराइवल के साथ ही फर्स्ट फ्लोर पर डिपार्चर और सेकेंड फ्लोर पर अधिकारियों के दफ्तर होंगे। बिहार में नई सुविधा के तहत बिहार के पटना एयरपोर्ट पर 14 एयरक्राफ्ट पार्किंग हो पायेगी।

विदेशो वाली एयरपोर्ट जैसी दिखेगी बिहार के पटना का एयरपोर्ट : बिहार के पटना एयरपोर्ट को नए टर्मिनल बिल्डिंग में 62,000 वर्ग फीट में मल्टी ब्रांड रिटेल भी बनाया जाएगा, प्रोजेक्ट इंजीनियरिंग सात लाख वर्गफुट में बन रहे नए टर्मिनल भवन में बिहार के इस एयरपोर्ट में 52 चेक इन काउंटर और पांच कंवेंटर बेल्ट होगा। आपको बता दे कि यात्रियों को विदेशों में एयरपोर्ट पर जैसी सुविधाएं मिलती हैं, इसको ध्यान में रख कर कार्य किया जा रहा है, जानकारी के मुताबिक दिसंबर 2023 तक इसे पूरा कर लिया जाएगा।

यह भी पढ़ें  अच्छी खबर : बिहार में पुरानी पेंशन योजना लागू करने को लेकर तस्वीर साफ, शिक्षा मंत्री विजय चौधरी ने कही ये बात