Bihar News: 18 किलोमीटर सुरंग से होकर गुजरेगी पटना मेट्रो, 14 KM में होगी एलिवेटेड

पटना मेट्रो को बिहार की राजधानी के अधिकांश इलाकों में सुरंग से होकर गुजरेगी। बता दे की सगुना मोड़ से गोला रोड और अंतरराज्जीय बस टर्मिनल पहाड़ी से कंकड़बाग के मलाही पकड़ी तक एलिवेटेड ट्रैक से गुजरेगी। गोला रोड से सुरंग शुरू होगी, जो पाटलिपुत्र स्टेशन, बेली रोड होते पटना जंक्शन को जोड़ेगी। एलिवेटेड ट्रैक की ऊंचाई औसतन 13 मीटर और सुरंग सतह से 150 फीट तक नीचे होगी।

आपको बता दे की बिहार की राजधानी पटना की घनी आबादी के बीच मेट्रो परियोजना की डिजाइन इस तरह बनाई गई है कि कम से कम भूमि अधिग्रहण की जरूरत पड़े। अधिकांश इलाके में सरकारी भूमि की जरूरत है। डिपो के लिए सबसे अधिक करीब 75 एकड़ रैयती जमीन के अधिग्रहण का प्रस्ताव है। पटना मेट्रो के दो कारिडोर में दानापुर कैंट टू पटना जंक्शन करीब 17.933 किलोमीटर में करीब 10.54 किलोमीटर सुरंग से गुजरेगी। मात्र 7.39 किलोमीटर एलिवेटेड ट्रैक का निर्माण होगा।

यह भी पढ़ें  अच्छी खबर : बिहार के भागलपुर एवं लखीसराय में राज्य की सबसे बड़ी विद्युत परियोजना, 2225 एकड़ में होगा निर्माण

यहां बनाई जानी है सुरंग : बताया जा रहा है की कारिडोर -2 में पटना जंक्शन से आकाशवाणी, गांधी मैदान, पीएमसीएच, एनआइटी, मोइनुलहक स्टेडियम, राजेंद्र नगर टर्मिनल, भूतनाथ रोड, जीरो माइल होते अंतरराज्जीय बस टर्मिनल तक 14 किलोमीटर में 7.926 किमी सुरंग बनाना है। मात्र छह किमी एलिवेटेड निर्माण होगा। कंकड़बाग के मलाही पकड़ी से बस टर्मिनल तक 113 खंभे पर सबसे लंबा एलिवेटेड ट्रैक और कंकड़बाग से राजेंद्र नगर टर्मिनल तक भूमिगत ट्रैक होगी।