बिहार का यह रेल सुरंग होगा खास, नहीं छायेगा अंधेरा, दिवालों पर दिखेगी पेंटिंग

बिहार में रेलवे की एक बड़ी परियोजना साकार हो गई है. बता दे की रेलवे बिहार में एक खास सुरंग बना रहा है. यह सुरंग मालदा रेल मंडल के जमालपुर और रतनपुर रेलवे स्टेशनों के बीच स्थित बरियाकोल में बन रहा है. रेलवे इस सुरंग को अंतिम रूप देने में लगा हुआ है. इस रेल सुरंग से राजधानी तेजस जैसी गाड़ियां तो गुजरेंगी ही, लोगों को सुरंग के अंदर एक अलग एहसास होगा.

जानकारी के अनुसार बिहार में बन रहा रेलवे का यह सुरंग बेहद खास होगा और अन्य सुरंगों से बिल्कुल अलग होगा. आम तौर पर रेलवे सुरंग में अंधेरा या कम रोशनी होती है, लेकिन इस सुरंग में बेहतरीन लाइट की व्यवस्था होगी. बता दे की सुरंग के अंदर पेंटिंग भी करायी जाएगी, जिसमें जिले के कई ऐतिहासिक स्थलों को दर्शाया जाएगा

यह भी पढ़ें  अच्छी खबर : सहरसा और दरभंगा के बीच इसी महीने से चलेगी इंटरसिटी ट्रेन, लाखों की आबादी को होगा फायदा

आपको बता दे की अभी रेल सुरंग का वाल पुट्टी का कार्य किया जा रहा है. सुरंग के अंदर के तमाम हिस्सों को पुट्टी चढ़ायी जा रही है. जिसके बाद पूरे सुरंग की रंगाई की जाएगी. सुरंग की लंबाई 341 मीटर चौड़ाई 7 मीटर और ऊंचाई 6.10 मीटर है.

जानकारी के लिए बता दे की पिछले 1 वर्ष से इस सुरंग को अंतिम रूप दिए जाने का कार्य लगातार जारी बना हुआ है. रेलवे सूत्रों की माने तो 2022 में इस सुरंग से ट्रेनो का परिचालन शुरू हो जायेगा. बताते चले की इसी माह मुख्य संरक्षा आयुक्त 24 कोच की ट्रेन दौड़ाकर सुरंग की जांच करेंगे. इस सुरंग से ट्रेनें 80 से 100 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चलेंगी.

यह भी पढ़ें  पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे से 2023 तक जुड़ेगा पटना-बक्सर और हैदरिया, अब छह घंटे में पहुंच सकेंगे पटना से दिल्ली