बिहारवासियों के लिए खुशखबरी! 69 रुपये में महीने भर अनलिमटेड हाईस्पीड इंटरनेट यूज करो

नया साल मनाने से पहले बिहार के लोगों को बहुत ही बड़ा तोहफा मिलने जा रहा है। बता दे की अब बिहार में महज 69 रुपये खर्च कर अनलिमटेड हाईस्पीड इंटरनेट यूज करने का मौका मिल रहा है। खास बात यह है कि यह मौका बिहार के गांवों में मिलेगा। इसका मतलब है अगर आप अपने गांव में रहकर वर्क फ्रॉम होम जॉब करना चाहते हैं तो आपको इंटरनेट की कम स्पीड का इश्यू शायद ना झेलना पड़े।

आपको बता दे की भारत संचार निगम लिमिटेड (BSNL) बिहार के गांव-गांव में वाई-फाई स्पॉट (WiFi Spot in Villages) बनाने जा रही है। बता दे की BSNL ने बिहार के गांवों में डिजिटल क्रांति लाने के लिए पीएम वाणी योजना (PM Wi-Fi Access Network Interface)शुरू करने जा रही है। इसके तहत पब्लिक डाटा आफिस (पीडीओ) को बढ़ावा दिया जाएगा। पीएम वाणी योजना योजना में महज 69 रुपये के खर्च में महीने पर गांव वालों को अनलिमिटेड हाईस्पीड डेटा मिलेगा। दावा है कि महज 69 रुपये में गांवों में 10 Mbps की इंटरनेट स्पीड मिलेगी।

यह भी पढ़ें  बिहार के लाल ईशान किशन भारत के नंबर-1 टी20 बल्लेबाज बने, 68 पायदान ऊपर चढ़े, कोहली टॉप-20 से भी बाहर

नालंदा जिले से शुरू हो चुकी है पीएम वाणी : BSNL ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के गृह जिले नालंदा से पीएम वाणी सुविधा को शुरू कर किया है। 23 नवंबर को बिहार के नूरसराय में इस प्रोजेक्ट की शुरुआत की गई थी। नूरसराय में योजना सफल होने के बाद अब इस मॉडल का पूरे बिहार में विस्तार किया जाएगा। माना जा रहा है कि नए साल में बिहार के गांवों के बड़े हिस्से तक यह सुविधा पहुंच जाएगी।

इन गांवों को मिलेगी पहले हाई स्पीड इंटरनेट की सुविधा : BSNL की ओर से मिली जानकारी के अनुसार पीएम वाणी इंटरनेट सुविधा को गांव-गांव तक पहुंचाना है। हालांकि फिलहाल BSNL के एक्सचेंज के आसपास मौजूद गांवों को यह सुविधा मिलेगी। पीडीओ के जरिए 50 से 100 मीटर की दूरी तक ही Wifi की सुविधा उपलब्ध कराई जा सकती है। बताया जा रहा है की शुरुआत में BSNL पटना जिले के गांवों पर खास ध्यान दे रही है। पब्लिक काल ऑफिस (PCO) की तर्ज पर पब्लिक डाटा ऑफिस (PDO) खोले जा रहे हैं। बताते चले की BSNL ने अपने पांच बिजनेस एरिया- पटना, भागलपुर, मुजफ्फरपुर, गया और दरभंगा को कम से कम 10-10 पीडीओ खोलने का आदेश दिया है। BSNL का कहना है कि पीडीओ खोलने वालों को रोजगार मिलेगा और गांव वालों को हाई स्पीड डेटा मिलेगा।

यह भी पढ़ें  बिहार के इन स्टेशनों पर खोले जाएंगे दवा काउंटर, यात्रा के दौरान रेलयात्रियों को इलाज के साथ मिलेंगी दवाएं