बिहार के पटना सहित कई अन्य जगहों के लिए फ्लोरेन की मिल गयी अनुमति, पढ़े पूरी खबर

बिहार (Bihar) के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish kumar) की अध्यक्षता में पिछले बुधवार को हुई बैठक में बिहार (Bihar) के पटना (patna) गया मुजफ्फरपुर (Muzaffarpur) जिला सहित कई अन्य जिलो में रिंग रोड फ्लोरेन रोड (Florence Road) की सुविधा बनाने की प्रस्ताव पर मुहर लग गई है | आपको बता दें कि बिहार (Bihar) की रोड व्यवस्था को और अच्छा करने के लिए बिहार सरकार (Bihar Government) अब और भी ऑनलाइन और रिंग रोड हर जिलो में अलग -अलग जगहों पर फ्लोरेन रोड एवं रिंग रोड सहित बिहार के कई जिलों में पोलैंड बनाने का रास्ता साफ कर दिया है| प्राधिकरण यानी एनएचआई के प्रस्ताव पर मुहर लगाते हुए सीएम नीतीश कुमार (Nitish kumar) ने इसका एलाइनमेंट की मंजूरी दे दिया है |

यह भी पढ़ें  महात्मा गांधी सेतु के पूर्वी लेन का हुआ उद्घाटन, नीतिन गडकरी ने दिये बिहार को कई सौगातें

बिहार (Bihar) के इन जिलों में फोरलेन और रिंग रोड बनाने को सीएम नितीश (Nitish kumar) की अध्यक्षता में मंजूरी मिल गई है| जिन सड़कों को मंजूरी दे दी गई है | उसमें से हम कुछ जगहों का नाम बताने जा रहे हैं जैसे मोकामा से मुंगेर के बीच फोरलेन बनाए जाएंगे इसके अलावा मोकामा से मुंगेर होते हुए लखीसराय से मुंगेर तक बनने वाली नई सडक फोरलेन सड़क होगी और यह सड़क मौजूदा सड़क से बिल्कुल अलग होगी | इतना ही नहीं बक्सर से हैदरिया के बीच कोलन बनाया जाएगा यूपी में लखनऊ से हैदरिया तक पूर्वांचल एक्सप्रेस वे का निर्माण अंतिम चरण में है. एक्सप्रेसवे बक्सर तक संपर्क का सुनिश्चित करने के लिए 17 किलोमीटर लंबा सड़क दरिया सड़क को बनाने का अनुमति मिल गया है | इसके अलावा पटना से बक्सर के रास्ते वाराणसी तक का सफर बहुत ही सुगम और मजेदार होगा |

यह भी पढ़ें  पटना आईआईटी में रिकॉर्डतोड़ प्‍लेसमेंट, छात्रों को सालाना ₹61 लाख रुपए का सालाना पैकेज

आपको बता दे की आवागमन की देखते हुए बक्सर चौसा वाराणसी में फ्लोरेन सड़क के निर्माण के एलाइनमेंट पर सहमति भी प्रदान कर दी गई है और आपको बता दें कि बरौनी से मुजफ्फरपुर और बछवारा से दलसिंहसराय के रास्ते मुजफ्फरपुर तक मौजूदा सड़क फोरलेन और चौड़ीकरण का भी अनुमति बिहार (Bihar) के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish kumar) की अध्यक्षता में मिल गई है | और मुजफ्फरपुर में नए रिंग रोड बनाने के लिए भी सरकार में हरी झंडी दिखा दी है |

बिहार (Bihar) में यह सभी फोरलेन रोड और रिंग रोड भारतमाला फेस टू योजना के तहत बनेगी सबसे पहले पटना से कोलकाता एक्सप्रेस वे जिसकी लंबाई 470 किलोमीटर से भी अधिक होगी इसके साथ ही नेपाल बॉर्डर रोड जिसकी लंबाई 552 किलोमीटर लगभग होगी | फोरलेन सड़क निर्माण जिसने फिलहाल अभी दो लेन सड़क निर्माण की स्वीकृति मिली है और उसमें काम जारी है |

यह भी पढ़ें  400 करोड़ की लागत से बिहार का यह रेलवे स्टेशन बनेगा वर्ल्डक्लास, 22 मई से शुरू की जायेगी टेंडर की प्रक्रिया