बिहार के दरभंगा में एयरपोर्ट बनने का दिखा असर, एक साल में आधे हो गए पटना एयरपोर्ट के पैसेंजर

बिहार (bihar) की राजधानी पटना (bihar) स्थित जय प्रकाश नारायण अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे (Jayprakash Narayan International Airport) को तो आप जानते ही होंगे| लेकिन बता दे की पटना हवाई अड्डे को लेकर माना यह जा रहा है| की यात्रियों की भीड़ अब घटने लगी है| इसकी बड़ी वजह है दरभंगा एयरपोर्ट (Darbhanga Airport) जब से यह एयरपोर्ट बना है| तब से कई शहरों के लिए हवाई सेवा का शुरू होना माना जा रहा है| इसके साथ ही दिल्ली से पटना आने वाले या पटना से दिल्ली जाने वाले विमानों में भी यात्रियों की संख्या में लगातार कमी देखी जा रही है |

यह भी पढ़ें  बिहार में कपड़ा और चर्म उद्योग लगाने पर मिलेगा 10 करोड़ सब्सिडी, राज्य कैबिनेट का बड़ा फैसला

उत्तर बिहार के लोग नहीं आ रहे हैं पटना एयरपोर्ट

बताते चले की पटना एयरपोर्ट पर कई बर्षो से टैक्सी चलाकर अपना जीवन यापन करने वाले ड्राइवर भी इस बात को बखूबी मानते है| टैक्सी चलाक का कहना हैं कि उत्तर बिहार के यात्री अब पटना एयरपोर्ट से सफर नहीं करते हैं| पटना एयरपोर्ट से टैक्सी चलाने वाले दिनेश साव का कहना है कि दरभंगा एयरपोर्ट जब से बना है तब से यहा बहुत फर्क पड़ा है| जिससे अब यात्री कम आ रहे है, जिस वजह से उन लोगों की कमाई भी कम हो गई है|

कई जिलों के लोगों को पसंद आ रहा है दरभंगा एयरपोर्ट 

यह भी पढ़ें  बिहार में पड़ने वाली है भयानक गर्मी, जमुई में पारा पहुंचा 39 डिग्री के पार, पढ़ें विभाग का ताजा अपडेट

जानकारी के लिए बता दे की दरभंगा एयरपोर्ट से देश के कई शहरों के लिए विमान सेवा उपलब्ध हो गई है| दरभंगा एयरपोर्ट से अब मिथिलांचल ही नहीं कोसी क्षेत्र से लेकर सीमांचल की बड़ी आबादी भी हवाई यात्रा करना पसंद कर रही है| दरभंगा एयरपोर्ट की इन सब क्षेत्र से अच्छी कनेक्टिविटी भी इसका एक कारण है| एनएच 57 के किनारे बने दरभंगा एयरपोर्ट से मुजफ्फरपुर, समस्तीपुर, मधुबनी, सुपौल, सहरसा किशनगंज, और कटिहार सहित नेपाल के तराई क्षेत्र का भी आवागमन सुगम है. अधिकांश लोग दरभंगा एयरपोर्ट से यात्रा करना पसंद कर रहे हैं|