apanabihar.com 1 7

बिहार सरकार ने राजधानी पटना को एक बड़ी सौगात दी है। बताया जा रहा है कि बिहार सरकार के ड्रीम प्रोजेक्ट के अंतर्गत जल्द ही बिहार की राजधानी पटना में बहुमंजिला बापू टावर का निर्माण किया जाएगा। इसके निर्माण होने के बाद बिहार के पटना की रौनक में चार चांद लग जाएगी। मिली जानकारी के अनुसार राज्य सरकार इस ड्रीम प्रोजेक्ट के के निर्माण के लिए काफी सजग नजर आ रही है। जिसके तहत कल इस बापू टावर के डिजाइन को बिहार (bihar) के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सबके सामने रखा है।

Also read: बिहार में बनने जा रही है चमचमाती एलिवेटेड सड़क, खर्च होंगे 15000 करोड़

बताया जा रहा है कि इस प्रोजेक्ट के बारे में बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने जानकारी देते हुए बताया है कि क्या बापू टावर भारत के राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के सम्मान में उन्हें समर्पित किया जाएगा। इसके साथ-साथ इसके निर्माण हो जाने के बाद बिहार की राजधानी पटना के विकास में एक और नया आयाम जुड़ जाएगा।

Also read: Special Train News: बिहार से इन राज्यों के लिए चलेगी स्पेशल ट्रेनें, देखें लिस्ट

राजधानी पटना के इस जगह पर बनेगा बहुमंजिला बापू टावर बता दें कि बिहार सरकार ने इस प्रोजेक्ट के अंतर्गत सभी जानकारियों को वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से लोगों के सामने रखा है। यह बापू टावर बिहार की राजधानी पटना के गर्दनीबाग क्षेत्र में बनाया जाएगा। यह टावर 7 एकड़ जमीन क्षेत्र में बनेगा। इसके साथ साथ बापू टावर 6 मंजिला बनाई जाएगी। मिली जानकारी के अनुसार जल्द ही इसके निर्माण की प्रक्रिया को शुरू कर दिया जाएगा।

Also read: अब सीमांचल से दरभंगा एयरपोर्ट पहुचने में लगेगा कम समय, फोरलेन बनेगा दरभंगा-जयनगर नेशनल हाइवे

जानिए क्या होगी पटना के बापू टावर की खासियत मिली जानकारी के अनुसार बिहार सरकार इस टावर को आधुनिक तकनीकी से निर्माण करेगा। इसके निर्माण की कुल लागत 85 करोड रुपए बताई जा रही है। यह टावर इस साल के अंत में बनकर तैयार हो जाएगा। बात करें इसकी खासियत की तो बिहार सरकार इस टावर को पूरी तरह से भूकंपरोधी बनाएगी जिसके बाद प्राकृतिक आपदाओं से होने वाली क्षति से टावर बचा रहेगा।

Raushan Kumar is known for his fearless and bold journalism. Along with this, Raushan Kumar is also the Editor in Chief of apanabihar.com. Who has been contributing in the field of journalism for almost 4 years.