ऐसा दिखता है IAS सत्यम गांधी का स्टडी रूम, इन किताबों से करते थे UPSC की तैयारी

यूपीएससी की परीक्षा को अपने आप में सबसे कठिन और कड़ा एग्जाम माना जाता है | असंभव की भी एक न एक दिन शुरुआत करनी ही पड़ती है | और जब उसे सफलता मिलती है तो वही शख्स आने वाले पीढ़ी के लिए मार्ग दर्शन का कारण बनते हैं | जो भी IAS बनते है वो  लोगों के लिए मिसाल बन जाते हैं | 

बिहार के समस्तीपुर जिले के मूल निवासी, सत्यम गांधी उन होनहार छात्रों में से एक हैं, जिन्होंने यूपीएससी की परीक्षा में पहले ही प्रयास में सफलता हासिल कर ली है। उनकी इस परीक्षा में 10वीं रैंक आई है। सत्यम शुरू से ही अपनी शिक्षा को गंभीरता से लेते थे, उनकी शुरुआती पढ़ाई केंद्रीय विद्यालय से हुई, जिसके बाद दिल्ली विश्वविद्यालय (DU) के दयाल सिंह कॉलेज से BA (ऑनर्स) राजनीति विज्ञान किया।

यह भी पढ़ें  बख्तियारपुर-मोकामा फोरलेन इस वर्ष पूरा होगा , पटना से बक्सर तक फर्राटा भरते पहुंचेगी गाड़ियां

आपको बता दें, सत्यम ने सेल्फ स्टडी का सहारा लिया, वह किसी भी कोचिंग सेंटर पर निर्भर नहीं रहे। हाल ही में उन्होंने इंस्टाग्राम स्टोरी पर अपने कमरे की तस्वीर शेयर की है, और बताया है कि यूपीएससी मेंस की तैयारी से पहले उनका कमरा कैसा था। इसी के साथ उन्होंने बताया, यूपीएससी की तैयारी के दौरान किन किताबों को पढ़कर तैयारी की।

एक न्यूज वेबसाइट को इंटरव्यू देते हुए उन्होंने बताया, “मैं राजेंद्र नगर में रहता था ताकि यूपीएससी से जुड़ा हर स्टडी मटेरियल आसानी से मिल सके। मॉक टेस्ट से लेकर तैयारी की किताबें और करंट अफेयर्स, सब कुछ यहां बुकस्टोर्स में आसानी से उपलब्ध है। ऐसे में स्टडी मटेरियल को इकट्ठा करने के लिए समय की बचत होती है”

यह भी पढ़ें  नई बालू नीति प्रभावी होने पर बढ़ेगा बिहार में रोजगार, छोटे कारोबारी भी ले सकेंगे पट्टे, पढ़े पूरी खबर