पिता को हवाई अड्डे पर देख रो पड़े UPSC टॉपर शुभम कुमार, गांव पहुंचने पर हुआ जोरदार स्वागत

बिहार के लाल कटिहार के रहने वाले शुभम पुरे देश के सबसे कठिन परीक्षा यूनियन पब्लिक सर्विस कमिशन (UPSC) एग्जाम 2020 में टॉप करने के बाद शुभम कुमार (Shubham Kumar) पहली बार अपने गांव पहुंचे रविवार को शुभम के कटिहार (Katihar) जिले के कदवा प्रखंड के कुमरही गांव लौटने पर उनके परिजनों और ग्रामीणों ने बैंड-बाजे के साथ उनका जोरदार स्वागत किया | पुणे (Pune) में नौकरी कर रहे शुभम यूपीएससी में टॉप (UPSC Topper) करने के बाद पहली बार अपने गांव आए हैं |इस मौके पर गांववालों ने जयकारे लगाते हुए उनका जबरदस्त स्वागत किया, और अगले कई दिन भी गांव में ऐसे ही जश्न मनाने की बात कही | उनके गाव वाले बताते है की ये सिर्फ मेरा नहीं बल्कि पुरे बिहार की गौरवान्वित करने वाली बात है हमें गर्व है की शुभम जैसे बच्चे हमारे गाव में है |

यह भी पढ़ें  IAS इंटरव्यू सवाल : ऐसी कौन सी चीज है जो लड़की का नाम भी है और उसके श्रृंगार के भी काम आती है?

शुभम कुमार जब अपने गाव में प्रवेश किये तो उनके साथ लोगो ने सेल्फी लेने के लिए हुरदंग कर दी सबसे ज्यदा तो युवा लोग इन सबसे से होते हुए शुभम जब अपने घर पहुंचे तो दहलीज पर उनकी मां ने उन्‍हें तिलक लगाकर और फूल-मालाएं पहना कर अपने होनहार बेटे को गले से लगा लिया | वहां मौजूद लोग मां की ममता देख कर भावुक हो उठे

इससे पहले, रविवार को दिल्ली से फ्लाइट से बागडोगरा पहुंचे शुभम को एयरपोर्ट पर रिसीव करने पहुंचे उनके पिता अपने बेटे को देखते ही रो पड़े. शुभम भी खुद को रोने से रोक न सके और उनके भी प्यार के आंसू छलक उठे. यहां से शुभम सड़क मार्ग से कटिहार के लिए रवाना हुए | रास्ते में वो कुछ समय के लिए किशनगंज में रूके | शुभम यहां किशनगंज डीएम के आवास पहुंचे |

यह भी पढ़ें  Indian Railway: कोटा-पटना सहित 27 ट्रेनें बदले मार्ग से चलेंगी, इन ट्रेनों का बदला गया रूट

जहां जिलाधिकारी आदित्य प्रकाश ने फूलों का गुलदस्ता देकर उनका अभिनंदन किया और उनके उज्जवल भविष्य की शुभकामनाएं दी | सभी को शुभम के ऊपर गर्व है बता दे की बिहार के कटिहार के लाल शुभम ने देश के सबसे कठिन परीक्षा यूनियन पब्लिक सर्विस कमिशन (UPSC) में अपना पहला स्थान लाकर अपने साथ साथ पुरे बिहार का नाम रौशन किया है |