BPSC परीक्षा में देवर-भाभी की जोड़ी ने किया कमाल, एक साथ तैयारी कर दोनों बनेंगे अफसर

प्रखंड के असियाचक पंचायत स्थित नोनसर गांव में 64वीं बीपीएससी परीक्षा में मिथिलेश कुमार सिंह के छोटे पुत्र मनीष भारद्वाज एवं दूसरे पुत्र राहुल सिंह की पत्नी राजबाला सिंह बीपीएससी की परीक्षा में सफलता हासिल कर न केवल अपने गांव बल्कि प्रखंड का नाम रोशन किया है।

देवर भाभी की इस सफलता पर पंचायत वासी गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं। 601वां रैंक लाने वाले मनीष भारद्वाज ने बताया कि‌ अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति कल्याण पदाधिकारी के पद पर चयनित हुआ हूं। लेकिन मेरा लक्ष्य यूपीएससी में सफलता पाना है। उन्होंने अपनी सफलता का श्रेय ईश्वर एवं माता-पिता सहित परिवार के सभी सदस्यों को दिया।

यह भी पढ़ें  बिहार में अगले तीन माह में स्वास्थ्य विभाग करेगा 13813 पदों पर बहाली, जानें किस पद पर कितनी वैकेंसी

उनके दूसरे भाई राहुल सिंह जो एसबीआई महाराष्ट्र में प्रबंधक है उनकी पत्नी राजबाला सिंह (1051वां रैंक) का चयन सप्लाई इंस्पेक्टर के पद पर हुआ है। मनीष के पिता मिथलेश कुमार सिंह कृषक हैं जबकि माता बीणा सिंह गृहणी हैं। अपने पुत्र व पुत्र वधू की सफलता पर काफी गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं।