रजिया सुल्तान बनी बिहार की पहली महिला DSP, पहले ही प्रयास में BPSC में मिली सफलता

BPSC में अपना परचम लहरा कर बिहार की पहली महिला डीएसपी रजिया सुल्तान बन चुकी है इनकी कामयाबी और इनकी सफलता प्रेरणादायक है क्यों कि इन्होंने सभी मुश्किलों को पार करके पहले की बार में बीपीएसी क्रैक की है इनकी सफलता के बाद उनका परिवार ही नहीं पूरे राज्य का मान बढ़ा है बीपीएससी की 64वीं परीक्षा में रजिया का चयन डीएसपी पद के लिए हुआ है।

रजिया बिहार की पहली मुस्लिम महिला हैं जो BPSC की परीक्षा में सफलता हासिल करने के बाद डायरेक्ट डीएसपी बनी हैं। उधर इनकी सफलता को देखते हुए लगातार सोशल मीडिया पर इनकी ही चर्चा हो रही है रजिया सुल्तान उन तमाम महिलाओं के लिए प्रेरणादायक है जो अफसर बनना चाहती है या डीएसपी बनना चाहती है।

यह भी पढ़ें  खुशखबरी : बिहार के इन तीन शहरों को बहुत जल्द मिलेगी हवाईअड्डे का तोहफा जानिये लिस्ट में आपका शहर है की नहीं?

नौकरी के साथ-साथ सेल्फ स्टडी करके पाई सफलता बिहार के गोपालगंज जिले के हथुआ की रहने वाली रजिया सुल्तान बताती है कि उन्होंने अपनी शुरुआती पढ़ाई बोकारो स्टील सिटी से की क्योंकि उनके पिता वहीं पर नौकरी करते थे जिसके बाद उन्होंने इंजीनियरिंग की पढ़ाई के लिए इन्होंने जोधपुर का रुख किया उन्होंने जोधपुर से इलेक्ट्रॉनिक इंजीनियरिंग में बीटेक करने के बाद इन्होंने बिहार का रुख किया और बिहार में अभी यह बिहार स्टेट पावर ट्रांसमिशन कंपनी में अभी इंजीनियर के पद पर 4 सालों से कार्यरत हैं और सबसे बड़ी बात यह है कि उन्होंने अपने नौकरी के दौरान की सेल्फ स्टडी करके बीपीएससी की तैयारी की और आज वह बीपीएससी में सफल होकर बिहार की पहली मुस्लिम महिला डीएसपी बनने वाली है।

यह भी पढ़ें  भागलपुर में फैलेगा एनएच का जाल, अगले पांच साल में दोगुनी होगी सड़कों की लंबाई