मां की मौत, 18 दिन की बच्ची से हारा संक्रमण; यादें जिंदा रहें इसलिए SI पिता ने पत्नी के नाम पर रखा बेटी का नाम

भोपाल में 18 दिन की बच्ची ने कोरोना को हरा दिया। हालांकि, संक्रमण ने उसकी मां को उससे छीन लिया। बेटी के ठीक होने के बाद बच्ची के सब इंस्पेक्टर पिता ने अपनी पत्नी के नाम पर ही उसका नाम रूही रखा। रूही की मां का निधन 2 मई को भोपाल के पीपुल्स अस्पताल में हो गया था।

पत्नी की यादों को जिंदा रखने के लिए पिता ने बेटी को भी वही नाम दिया। संक्रमित मां के गर्भ से जन्मीं नन्हीं रूही भी कोरोना पॉजिटिव थी। 18 दिन तक नर्साें ने उसकी मां की तरह देखभाल की। अब रूही कोरोना को हरा चुकी है और गुरुवार को उसे डिस्चार्ज कर पिता हाशिम को सौंप दिया गया।

यह भी पढ़ें  Bank Holidays :1 से 4 मई तक लगातार बंद रहेंगे बैंक, अभी से निपटा लें सभी काम

बच्ची के पेट में रहते ही हो गईं थी संक्रमित
हाशिम बताते हैं कि पत्नी को खोने का जितना गम दिल में है, उतनी ही खुशी बेटी को गोद में लेने की है। उत्तर प्रदेश पुलिस में सब इंस्पेक्टर हाशिम के मुताबिक वे प्रयागराज के रहने वाले हैं और वहीं पत्नी संक्रमित हो गई थी। उस वक्त उसे 35 हफ्ते का गर्भ था। वहां, डॉक्टर्स ने इलाज के लिए हाथ खड़े किए तो मेरे एक रिश्तेदार ने हमें भोपाल बुला लिया। यहां डॉक्टर्स ने बहुत कोशिश की, लेकिन किसी एक को ही बचा सके।

पूरी तरह से स्वस्थ है बच्ची
अस्पताल की डॉक्टर ऋचा ने बताया कि जन्म के समय बच्ची का वजन बहुत कम था। संक्रमण के कारण उसे सांस लेने में दिक्कत हो रही थी। हम घबरा गए थे, लेकिन सभी ने मिलकर एक-दूसरे का हौसला बढ़ाया और आज परिणाम सबके सामने है। बच्ची का वजन अभी 2.5 किलो है। वो पूरी तरह स्वस्थ है।

यह भी पढ़ें  सहारा के ग्राहकों के लिए अच्छी खबर, अब ब्याज सहित वापस मिलेगी निवेशकों का पैसा जानिये लेटेस्ट अपडेट

साभार – dainik bhaskar