Chirag Paswan : जब 44 साल बाद Ram Vilas Paswan की दोनों पत्नियां मिलीं पहली बार गले, Chirag Paswan को भी किया खूब दुलार,

बिहार के बेहतरीन युवा नेताओं में से एक चिराग पासवान जिनका बिहार की गलियारों में हमेशा नाम गूंजते रहता है. उनका नाम बिहार के हर गांव में हर लोगों को पता है. और उनकी लोकप्रियता का सबसे बड़ा कारण यह है की वो राम विलास पासवान के बेटे है.

अब आप यह भी जान ले की चिराग पासवान का पूरा नाम चिराग कुमार पासवान है. लेकिन उन्हें ज्यादातर लोग चिराग पासवान के नाम से ही जानते है. वैसे चिराग कुमार पासवान को बिहार की राजनीति का चाणक्य कहा जाता है. जिसको उन्होंने कई बार साबित भी कर दिया है.

आपको बता दे की चिराग पासवान का जन्म 31 अक्टूबर 1982 को बिहार के खगरिया में हुआ था. चिराग पासवान ने अपनी स्कूलिंग नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ ओपन स्कूलिंग से की है. बता दे की उन्होंने साल 2003 में नई दिल्ली में स्थित स्वास्थशी संस्थान से कंप्यूटर विज्ञान में बीटेक किया है.

इस हिसाब से चिराग पासवान का नाम बिहार के पढ़े लिखे नेताओ में लिया जाता है. सबसे खास बात यह है की चिराग कुमार पासवान ने 2014 में हुए लोक सभा चुनाव में बिहार की जमुई लोक सभा सीट से चुनाव लड़े. जिसमे उन्होंने राष्ट्रीय जनता दल के उम्मीदवार सुधांशु शेखर भास्कर को करीब 85,000 मतो से हराया.