बिहार के इस जिले में लगा अडानी लोजिस्टिक्स उद्योग, उद्योग के लिए अडानी ग्रुप ने और जमीन माँगा

बिहार में उद्योग लगाने के लिए लगातार कवायद जारी है. अडानी ग्रुप ने कई जिले में अडानी लोजिस्टिक्स के लिए काम शुरू भी कर दिया है. बता दें की बिहार सरकार और निजी कंपनी के आला कमान आपस में विचार विमर्श कर रहे है. इसी कड़ी में राजधानी पटना में इन्वेस्टर्स मीट का एक आयोजन हुआ. इस  इन्वेस्टर्स मीट 2022 में देश के लगभग 100 कंपनी के अधिकारी शामिल हुए. अडानी ग्रुप में जय सिंघानिया ने कहा की बिहार की उद्योग नीति एकदम अनुकूल है. मुजफ्फरपुर के बियाडा में और जमीन माँगा है.

इन्वेस्टर्स मीट 2022 में शामिल उद्योगपती ने जहाँ एक ओर सरकार की प्रसंशा की वही दूसरी ओर उन्होंने बिहार में नए उद्योग लगाने के अपनी कुछ मांगे भी रखी है. बता दूँ की अडानी ग्रुप ने कई जिले में अडानी लोजिस्टिक्स के लिए जमीन अधिग्रहण कर काम शुरू भी कर दिया है. मुजफ्फरपुर के बियाडा में लोजिस्टिक्स के वेयरहाउस बनाने के लिए अडानी समूह लॉजिस्टिक्स को उद्योग का दर्जा माँगा है. साथ ही जमीन मुहैया कराने की सिफारिश की है.

इस मीटिंग में 100 उद्योग के अधिकारी शामिल थे. सभी ने उद्योग को चलाने के लिए सुरक्षा काफी अहम कड़ी मानी. इसीलिए लिए बिहार में अडानी और अंबानी सुरक्षा को काफी जोर देते नजर आये. अडानी ग्रुप में जय सिंघानिया ने बिहार उद्योग निति की जमकर तारीफ की. भविष्य में मुजफ्फरपुर के अलावा और भी जिले में फूड प्रोसेसिंग यूनिट लगाने के लिए रणनिति तैयार किया.

बिहार के मुख्यामंत्री नीतीश कुमार खुद राज्य में लॉ एंड आर्डर को लेकर सभी उद्योगपती को भरोसा दिलाया की , बिहार में आपको कोई दिक्कत नहीं होगी. उन्होंने कहा की सभी तरह के उद्योग बिहार में लगे इसके लिए हम सब आपको आमंत्रित करते है. सरकार ने कहाँ की जहाँ जहाँ जमीन उपलब्ध नही है वहां भी जमीन उपलब्ध कराया जायेगा.