हफ्ते भर में तीन से चार हजार और सस्ती हो सकती है सरिया की कीमतें

अगर आप भी अपना सपनो का घर बनाने की सोच रहे है तो आपके लिए यह बहुत ही खुशी की खबर है. बता दे की आसमान छू रही सरिया की कीमतों में आने वाले हफ्ते भर में ही तीन से चार हजार रुपये प्रति टन की गिरावट आ सकती है। यानि गिरावट के बाद रायपुर में सरिया 55 से 56 हजार रुपये प्रति टन पहुंच जाएगा। शुक्रवार 10 जून को सरिया वर्तमान में सरिया 60 हजार 500 रुपये प्रति टन पहुंच गया। 15 अप्रैल को सरिया 75 हजार रुपये प्रति टन बिक रहा था।

आपको बता दे की इसको लेकर लोहा कारोबारियों का कहना है कि अभी लोहा बाजार में वैसे ही मांग नदारद है। ऐसे में बारिश का सीजन शुरू होने को है और इसे कारोबार के लिए वैसे ही ढीला समय माना जाता है। खास बात यह है की इस वजह से सरिया की कीमतों में और गिरावट की संभावना बनी हुई है। इसके साथ ही एक दूसरा कारण यह भी है कि छत्तीसगढ़ से सबसे ज्यादा लोहा और स्टील बांग्लादेश, नेपाल और चीन भेजा जाता रहा है। एक्सपोर्ट ड्यूटी बढ़ जाने के बाद सरिया का निर्यात कम हो जाएगा। इसका लाभ स्थानीय कारोबार को होगा।

  • गिरावट के ये हैं प्रमुख कारण
  • 1. ऊंची कीमतों के कारण इन दिनों बाजार से मांग बिल्कुल नदारद है
  • 2. सरकार ने लौह अयस्क और पैलेट पर निर्यात शुल्क लगाया है
  • 3. लौह अयस्क और कोयले की कीमतों में भी गिरावट आई है
  • 4. बारिश का सीजन शुरू होने को है और इसे आफ सीजन कहा जाता है
यह भी पढ़ें  सहारा इंडिया के निवेशकों को वापस मिलेंगे पैसे, जिला कलेक्टर ने किया समिति का गठन जाने विस्तार से