ये 2 सरकारी बैंक जल्द होने जा रहे प्राइवेट, फटाफट चेक करें आपका भी है क्या खाता?

जल्द ही अब सरकार की ओर से 2 बैंकों के प्राइवेटाइजेशन का काम चल रहा है. सार्वजनिक क्षेत्र के दो बैंकों (PSB) के निजीकरण पर तेजी से काम जारी है और सरकार आने वाले महीनों में इस संबंध में उचित कदम उठा सकती है. बताया जा रहा है की आपको वित्त वर्ष 2021-22 के केंद्रीय बजट में सरकार ने साल के दौरान दो सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के निजीकरण की मंशा जताने के साथ सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों के रणनीतिक विनिवेश की नीति को मंजूरी दी थी.

BPCL का विनिवेश भी प्रक्रिया में : जानकारों की माने तो सरकार सार्वजनिक क्षेत्र के दो बैंकों के प्राइवेटाइजेशन के लिए प्रतिबद्ध है और इस इस दिशा में काम जारी है. इसके अलावा सूत्रों ने यह भी कहा कि भारत पेट्रोलियम कॉरपोरेशन लिमिटेड (BPCL) का विनिवेश भी प्रक्रिया में है और इसके लिए नयी बोलियां आमंत्रित की जाएंगी.

यह भी पढ़ें  सहारा इंडिया में पैसा निवेश करके आ रहा लोगों को पछतावा, कोर्ट के पास पंहुच चुकी है मामला, जाने कब मिलेगा पैसा?

बोली वापस लेने की वजह से रद्द हुई BPCL की प्रक्रिया : खास बात यह है की इसके लिए एक ही बोली लगाने वाला बचा था, जिसके कारण सरकार को बिक्री की बोली रद्द करनी पड़ी थी. सरकार ने बीपीसीएल में अपनी पूरी 52.98 फीसदी हिस्सेदारी बेचने की योजना बनाई थी और मार्च, 2020 में बोलीदाताओं से रुचि पत्र मांगे थे. इसके लिए नवंबर, 2020 तक कम से कम तीन बोलियां आईं, लेकिन अन्यों के बोली वापस लेने के बाद केवल एक ही बोलीदाता बचा था.

इन 2 बैंकों का हो सकता है निजीकरण : आपको बता दे की कंटेनर कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (कॉनकोर) की रणनीतिक बिक्री को लेकर सूत्रों ने कहा कि कुछ मुद्दे हैं और उनके समाधान के बाद विनिवेश की प्रक्रिया शुरू की जाएगी. सूत्रों के मुताबिक, सार्वजानिक क्षेत्र के सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया और इंडियन ओवरसीज बैंक का निजीकरण किया जा सकता है.

यह भी पढ़ें  Edible Oil Price: सोयाबीन-मूंगफली समेत कई खाने के तेल हुए सस्ते, चेक करें लेटेस्ट रेट्स