अच्छी खबर : अब सस्ता होगा गेहूं, सरकार ने एक्सपोर्ट पर तत्काल प्रभाव से लगाया बैन

देश वासियों को जल्द ही गेंहू के महंगे दामो से राहत मिलने की उमीद है. बता दे की भारत में जल्द ही गेहूं के दामों (Wheat Prices) में गिरावट की उम्मीद है। दाम नहीं भी घटे तो अब और उछाल नहीं आएगे। इसके लिए केंद्र सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। जानकारी के मुताबिक, केंद्र सरकार ने शनिवार को गेहूं के निर्यात पर तत्काल प्रभाव से रोक लगा दी है। इसका मतलब है की अब बिना सरकार की अनुमति के किसी अन्य देश के गेहूं नहीं भेजा जा सकेगा। माना जा रहा है कि देश में गेहूं की कीमतों को कंट्रोल करने के लिए सरकार ने यह कदम उठाया है।

मीडिया रिपोर्ट की माने तो भारत ने बढ़ती घरेलू कीमतों को नियंत्रित करने के उपायों के तहत शनिवार को गेहूं के निर्यात पर तत्काल प्रभाव से प्रतिबंध लगा दिया है। हालांकि, इस अधिसूचना की तारीख को या उससे पहले जिन निर्यात शिपमेंट के लिए अपरिवर्तनीय ऋण पत्र (एलओसी) जारी किए गए हैं, उनके पूरा किया जा सकेगा। विदेश व्यापार महानिदेशालय (डीजीएफटी) ने 13 मई को यह अधिसूचना जारी की है।

जानिए और क्या लिखा है अधिसूचना में : आपको बता दे की अधिसूचना में स्पष्ट किया गया है कि भारत सरकार द्वारा अन्य देशों को उनकी खाद्य सुरक्षा जरूरतों को पूरा करने के लिए जरूरत के आधार पर गेहूं के निर्यात की अनुमति दी जाएगी। यदि कोई देश अपनी जरूरत बताते हुए अनुरोध करता है तो भारत विचार करेगा। एक अलग अधिसूचना में डीजीएफटी ने प्याज के बीज के लिए निर्यात शर्तों को आसान बनाने की घोषणा की। इसमें कहा गया कि ‘प्याज के बीज की निर्यात नीति को तत्काल तथ्य के साथ प्रतिबंधित श्रेणी के तहत रखा गया है।’ पहले प्याज के बीज का निर्यात प्रतिबंधित था।