बिहार में हेडमास्टर की बंपर वैकेंसी, 28 मार्च तक करें आवेदन, ऐसे होगी भर्ती

BPSC Headmaster recruitment 2022 : बिहार में तीन दशक के लंबे अंतराल के बाद हेडमास्टर की नियुक्ति के दरवाजे खुल गए हैं. BPSC (Bihar Public Service Commission) ने शुक्रवार यानी की 4 मार्च को उच्च माध्यमिक विद्यालयों (senior secondary school) में प्रधानाध्यापक (Headmaster) की नियुक्ति के लिए विज्ञापन जारी कर दिया है. वही BPSC (Bihar Public Service Commission) के विज्ञापन में कुल 6421 पदों पर नियुक्ति के लिए आवेदन मांगा गया है. वही इनमें 2179 पद महिला अभ्यर्थियों के लिए आरक्षित हैं. खास बात यह है की ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया शनिवार यानी की 5 मार्च से शुरू होगी. अभ्यर्थी 28 मार्च तक आवेदन कर सकते हैं. वही बोर्ड की तरफ से जानकारी के अनुसार आवेदन करने के बाद अभ्यर्थी चार अप्रैल तक फॉर्म में सुधार कर सकते हैं. इसमें सामान्य के लिए 750 रुपये, एससी-एसटी, महिला व दिव्यांग अभ्यर्थी को 200 रुपये आवेदन फीस देनी होगी.

यह भी पढ़ें  बिहार के युवाओं को सीएम नीतीश ने दिया बड़ा तोहफा, पुलिस विभाग में होगी बंपर भर्ती

वही उच्च माध्यमिक स्कूलों में प्रधानाध्यापक पद पर नियुक्ति के लिए लिखित परीक्षा आयोजित होगी. आपको बता दे की इस परीक्षा में 150 प्रश्न पूछे जायेंगे, जो वस्तुनिष्ठ बहुविकल्पीय होंगे. इसमें सामान्य अध्ययन के 100 अंक एवं बीएड कोर्स से संबंधित 50 अंकों की परीक्षा ओएमआर शीट पर ली जायेगी. प्रत्येक गलत उत्तर के लिए 0.25 अंक काटा जायेगा. परीक्षा की अवधि दो घंटे की होगी. इस परीक्षा के बाद इंटरव्यू नहीं लिया जायेगा. अंतिम रूप से सफल अभ्यर्थियों से संवर्ग आवंटन संबंधी अधिमानता विभाग द्वारा प्राप्त किया जायेगा. चयन के बाद पदस्थापना मेरिट कम च्वाइस के आधार पर संबंधित प्रमंडल में विभाग द्वारा किया जायेगा.

BPSC (Bihar Public Service Commission) ने कहा है की हेडमास्टर (Headmaster) के पोस्ट पर नियुक्ति के लिए देश के किसी भी मान्यताप्राप्त विश्वविद्यालय (University) से 50% अंकों के साथ पोस्ट ग्रेजुएट (Post graduate) होना जरूरी है. SC, ST, EBC, BC, दिव्यांग, महिला एवं आर्थिक रूप से कमजोर अभ्यर्थियों के लिए न्यूनतम अंक में पांच फीसदी की छूट मिलेगी. अभ्यर्थी को मान्यताप्राप्त संस्थान से बीएड, बीएएड(Bachelor of Education), Bachelor of Science एड पास होना चाहिए. सरकारी और मान्यताप्राप्त विद्यालयों में वर्ष 2012 या उसके बाद नियुक्त शिक्षकों को इन पदों पर आवेदन करने के लिए टीइटी में पास होना जरूरी है.

यह भी पढ़ें  बिहार के सभी जिलों में साल के अंत तक चलेंगी इलेक्ट्रिक और सीएनजी बसें, प्रदूषण कम करने में होगी सहायता

अनुभव प्रमाणपत्र 28 मार्च, 2022 तक का मान्य : आपको बता दे की हेडमास्टर बनने के लिए बिहार सरकार (Government of Bihar) के स्कूल में पंचायती राज संस्था व नगर निकाय के अधीन माध्यमिक शिक्षक पद पर न्यूनतम 10 वर्ष की सेवा, जबकि CBSE (Central Board of Secondary Education), ICSE (Indian Certificate of Secondary Education), BSEB (Bihar School Examination Board) से स्थायी संबद्धताप्राप्त स्कूल में माध्यमिक शिक्षक के पद पर न्यूनतम 12 वर्ष की लगातार सेवा जरूरी है. बिहार सरकार के स्कूल में पंचायती राज संस्था एवं नगर निकाय के तहत उच्च माध्यमिक शिक्षक के पद पर न्यूनतम आठ वर्ष की सेवा देने वाले तथा स्थायी संबद्धताप्राप्त स्कूल में उच्च माध्यमिक शिक्षक के पद पर न्यूनतम आठ वर्ष की लगातार सेवा जरूरी है.

यह भी पढ़ें  नई बालू नीति प्रभावी होने पर बढ़ेगा बिहार में रोजगार, छोटे कारोबारी भी ले सकेंगे पट्टे, पढ़े पूरी खबर

अनुभव संबंधित सभी प्रमाणपत्र (certificate) 28 मार्च 2022 के पहले जारी होना चाहिए. 47 वर्ष के उम्र वाले भी कर सकते हैं आवेदन : पंचायत व नगर निकाय के अधीन कार्यरत शिक्षक के लिए न्यूनतम एवं अधिकतम उम्र सीमा अलग से निर्धारित नहीं होगी. CBSE(Central Board of Secondary Education), ICSE (Indian Certificate of Secondary Education), BSEB (Bihar School Examination Board) से संबद्धता प्राप्त विद्यालयों में कार्यरत शिक्षकों के लिए एक अगस्त, 2021 को न्यूनतम उम्र 31 वर्ष और अधिकतम उम्र 47 वर्ष होनी चाहिए.