apanabihar.com 85

हमारे देश के दूर-दराज के गांवों में किसानों के लिए अपनी सब्जियों या अन्य उपज को कोल्ड स्टोरेज तक पहुंचा पाना एक बड़ी चुनौती है। ऐसे में अगर एक दिन में सब्जी नहीं बिकी तो उपज की अच्छी कीमत मिलना मुश्किल हो जाता है। बताया जा रहा है की किसानों की इस समस्या को देखते हुए पश्चिम बंगाल के हुबली स्थित बिजॉय नारायण महाविद्यालय के कुछ छात्रों ने वेजीरेटर नाम से एक देसी फ्रिज बनाया है। बता दे की इसमें सब्जियों को पांच दिनों तक तरोताजा रखा जा सकता है। उनके इस प्रोडक्ट को छोटे एवं जरूरतमंद किसानों तक पहुंचाने में डब्लूडब्लूएफ इंडिया उनकी मदद कर रहा है।

Also read: This Tecno phone launched for only Rs 9 thousand, will get 5000mAh battery

कीमत कम, फायदे अधिक : आपको बता दे की इन छात्रों की टीम के एक सदस्य शुभोदीप के मुताबिक इस वेजीरेटर को बनाने में मात्र 400 रुपये तक का खर्च आता है। खास बात ये है कि इसे बनाने के लिए गांव में आसानी से मिलने वाली चीजों का ही इस्तेमाल किया जाता है। वह बताते हैं कि प्रमुख बात यह भी है कि इसमें खाने की क्वालिटी पर भी कोई असर नहीं पड़ता है और पर्यावरण के लिए भी अनुकूल होता है।

Also read: Xiaomi 14 series, smartwatch and tablet launched, know what is the price

ऐसे बनता है वेजीरेटर : मीडिया रिपोर्ट की माने तो इस वेजीरेटर को बनाने के लिए सबसे पहले बांस के टुकड़ों से एक ढांचा तैयार किया जाता है। इसके बाद उसके ऊपर चिकनी मिट्टी की एक परत लगाई जाती है। अंदर के हिस्से में बालू लगाई जाती है जिसे पानी से गीला कर दिया जाता है। ऐसे में इस वेजीरेटर के अंदर बाहर की तुलना में काफी कम हो जाता है जिससे इसमें सब्जियां रखने पर अगले तीन से पांच दिनों तक ताजी बनी रहती है।

Also read: Infinix GT Ultra 5G is coming to make a splash in the gaming world, will get powerful processor

Also read: Launch date of Vivo V30 Series confirmed, know the color and features of the phone

Raushan Kumar is known for his fearless and bold journalism. Along with this, Raushan Kumar is also the Editor in Chief of apanabihar.com. Who has been contributing in the field of journalism for almost 4 years.