फाइंड माई बाइक, ई-लॉक और रिवर्स मोड जैसे फीचर्स के साथ हीरो ने भारत में लॉन्च किया इलेक्ट्रिक स्कूटर

देश में बढ़ रहे पेट्रोल के दामो के बजह से लोग इलेक्ट्रिक बाइक की तरफ खिचे चले जा रहे है. बता दे की हीरो इलेक्ट्रिक ने भारत के लिए एक नया इलेक्ट्रिक टू-व्हीलर हीरो एडी लॉन्च किया. इलेक्ट्रिक स्कूटर को एक आसान पैंतरेबाज़ी प्रॉडक्ट होने का दावा किया जाता है जो अगले पड़ोस की दुकान, गोल्फ कोर्स और जिम आदि के लिए कम दूरी की यात्रा की जरूरत को पूरा करने के लिए टेक्नोलॉजी और सुविधा के बीच संतुलन बनाता है. इसकी कीमत 72,000 रुपये (एक्स-शोरूम) है. कंपनी का कहना है कि इलेक्ट्रिक स्कूटर को उन ग्राहकों के लिए डिज़ाइन किया गया है जो कम ट्रेवल के लिए इलेक्ट्रिक स्कूटर चाहते हैं. स्कूटर की रेंज का खुलासा नहीं किया गया है. हालांकि, इसे फुल चार्ज करने पर 50-80 किलोमीटर की रेंज मिलने की उम्मीद है. 

यह भी पढ़ें  सिर्फ 30 दिनों में 2 लाख से ज्यादा लोग घर ले आए ये बाइक, जानिए कीमत और खूबियां

आपको बता दे की इलेक्ट्रिक स्कूटर फाइंड माई बाइक, ई-लॉक, लार्ज बूट स्पेस, फॉलो मी हेडलैम्प्स और रिवर्स मोड जैसे फीचर्स के साथ आएगा. इलेक्ट्रिक स्कूटर को दो कलर ऑप्शन में उपलब्ध कराया जाएगा, पीला और हल्का नीला रंग. हीरो एडी को किसी रजिस्ट्रेशन या ड्राइविंग लाइसेंस की जरूरत नहीं है क्योंकि यह कम स्पीड वाला वाहन है.

खास बात यह है की हीरो इलेक्ट्रिक ने हाल ही में बढ़ी हुई मांग को पूरा करने के लिए लुधियाना में अपनी प्रॉडक्शन फैसेलिटी को बढ़ाया है. कंपनी के पास 35 प्रतिशत मार्केट हिस्सेदारी है और वर्तमान में 325 शहरों में इसका 600+ डीलरशिप नेटवर्क है. हीरो इलेक्ट्रिक भारत में करीब अलग-अलग इलेक्ट्रिक 4.5 लाख यूनिट को बेच चुकी हैं. साथ ही कंपनी चार्जिंग इंफ्रास्ट्रक्चर को तैयार करने में पूरा प्रयास कर रही है.

यह भी पढ़ें  40 हजार से सस्ते ये इलेक्ट्रिक स्कूटर्स देते हैं 80 किमी की रेंज

मीडिया रिपोर्ट की माने तो हीरो इलेक्ट्रिक ने इलेक्ट्रिक स्कूटर के अपने खरीदारों को किस्त की सुविधा देने के लिए स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के साथ भी करार किया है. ईएमआई ऑप्शन 4 साल के लिए 251 रुपये प्रति 10,000 रुपये से शुरू होते हैं और एसबीआई ईजी राइड लोन के तहत पेश किए जाते हैं. महिंद्रा ग्रुप और उनके पहले संयुक्त इलेक्ट्रिक टू व्हीलर के साथ एक संयुक्त साझेदारी ऑप्टिमा स्कूटर थी. लगभग 150 करोड़ रुपये की 5 साल की साझेदारी का  टारगेट इस साल के आखिर तक सालाना 10 लाख इलेक्ट्रिक वाहनों का उत्पादन करना है.