सिर्फ 14 रुपये प्रतिदिन के निवेश पर हर महीने मिलेगा 5,000 रुपये का फायदा, जानिए कैसे

अपने खर्चों और वित्तीय जरूरतों को सही से चलाने के लिए बचत करना बेहद जरूरी होता है। बचत करने से भविष्य में आकष्मिक जरूरतों को पूरी करने में काफी आसानी होती है। अगर आप अपने बचत के पैसों को सही जगह पर इनवेस्ट करते हैं तो आप उस पर कमाई भी कर सकते हैं। बता दे की अगर आप भी कहीं सुरक्षित जगह निवेश करने का प्लान बना रहे हैं तो सरकार की अटल पेंशन योजना (Atal Pension Yojana-APY) में पैसा लगा सकते हैं. अटल पेंशन योजना वर्ष 2015 में शुरू तो असंगठित क्षेत्रों में काम करने वाले लोगों के लिए की गई थी, लेकिन इस योजना में 18 से 40 वर्ष की कोई भी भारतीय नागरिक निवेश कर पेंशन का लाभ उठा सकते हैं, जिनके पास बैंक या पोस्ट ऑफिस में अकाउंट है. इस योजना में 60 साल के बाद जमाकर्ताओं को पेंशन मिलना शुरू होती है.

यह भी पढ़ें  बिहार में मोटी कमाई का मौका! शुरू करे यह बिजनेस तो सरकार देगी 3 लाख का अनुदान

क्या है अटल पेंशन योजना?जानकारों की माने तो अटल पेंशन स्कीम में आपके द्वारा किए गए निवेश आपकी उम्र पर निर्भर करती है. इस योजना के तहत कम से कम 1,000 रुपये, 2000 रुपये, 3000 रुपये, 4000 रुपये और अधिक से अधिक से 5,000 रुपये मासिक पेंशन मिल सकती है. इस पेंशन योजना के लिए अगर आप रजिस्ट्रेशन कराना चाहते हैं तो आपके पास सेविंग्स अकाउंट, आधार नंबर और एक मोबाइल नंबर होना चाहिए.

इस तरह हर महीने मिलेंगे 10,000 रुपये : आपको बता दे की अगर कोई शख्स 18 साल की उम्र में इस स्कीम से जुड़ता है तो उसे 60 साल की उम्र के बाद हर महीने 5,000 रुपये मासिक पेंशन के लिए सिर्फ प्रति माह 210 रुपये जमा करने होंगे. वहीं, 39 साल से कम उम्र के पति-पत्नी अलग-अलग इस स्कीम का लाभ उठा सकते हैं, जिससे 60 साल की उम्र के बाद उन्हें दोनों को मिलाकर हर महीने 10,000 रुपये की पेंशन मिलेगी.

यह भी पढ़ें  पति-पत्नी मिलकर खुलवाएं यह अकाउंट, हर महीने 4950 रु की होगी गारंटीड इनकम, पैसा भी 100% सेफ

टैक्स बेनिफिट : जानकारी के अनुसार अटल पेंशन योजना में निवेश करने वाले लोगों को इनकम टैक्स एक्ट 80C के तहत 1.5 लाख रुपये तक का टैक्स बेनिफिट मिलता है. इसमें से सब्सक्रीइबर्स के टैक्सेबल इनकम को घटा दिया जाता है. इसके अलावा स्पेशल मामलों में 50,000 रुपये तक का अतिरिक्त टैक्स बेनिफिट मिलता है. इस तरह इस योजना में 2 लाख रुपये तक का डिडक्शन मिलता है.