आम उपभोक्ताओं को झटका देगी सरकार! महंगे हो सकते हैं स्मार्टफोन समेत ये आइटम्स, जानें पूरी डिटेल्स

केंद्र की मोदी सरकार (Modi Government) 1 फरवरी 2022 को बजट (Budget 2022-23) पेश करने वाली है. इससे जहां एक ओर लोग राहत की उम्मीद लगाए बैठे हैं. वहीं, दूसरी ओर सरकार उन्हें झटका दे सकती है. बता दे की आगामी बजट में सरकार स्मार्टफोन (Smartphone) समेत करीब 50 वस्तुओं के दाम बढ़ा (Price Hike) सकती है. इंडस्ट्री से जुड़े जानकारों का कहना है कि अर्थव्यवस्था (Indian Economy) और राजकोषीय स्थिति (Fiscal Condition) को देखते हुए सरकार यह कदम उठा सकती है.

आपको बता दे की घरेलू उद्योग को राहत देने के लिए सरकार बजट 2022 में विदेश से आयात (Import) किए जाने करीब 50 वस्तुओं पर इम्पोर्ट ड्यूटी (Custom Duty) बढ़ा सकती है. इनमें इलेक्ट्रॉनिक्स (Electronics), इलेक्ट्रिकल गुड्स (Electricals Goods), केमिकल (Chemical) और हैंडक्राफ्ट (Handcraft) जैसे उत्पाद शामिल हैं. जानकारों का कहना है कि इम्पोर्ट ड्यूटी बढ़ाने का सीधा असर उपभोक्ताओं (Consumer) पर पड़ेगा.

यह भी पढ़ें  सरसों तेल ग्राहकों की बल्ले-बल्ले, कीमतों में आई 50 रूपए की गिरावट, जानिए ताजा भाव

10 फीसदी तक बढ़ सकती है इम्पोर्ट ड्यूटी : खबरों की माने तो चीन (China) और अन्य देशों से 56 अरब डॉलर कीमत के उत्पादों के आयात पर इम्पोर्ट ड्यूटी लगाई जा सकती है. उन वस्तुओं की पहचान कर ली गई है, जिन पर 5 से 10 फीसदी तक इम्पोर्ट ड्यूटी बढ़ाई जा सकती है. सरकार के इस कदम से गैर-जरूरी वस्तुओं के इम्पोर्ट पर लगाम लगाने में मदद मिलेगी. साथ ही देश में मैन्युफैक्चरिंग (Manufacturing) को बढ़ावा मिलेगा. इससे रोजगार (Employment) के मोर्चे पर भी राहत मिल सकती है.

महंगे हो सकते हैं ये आइटम्स : बताया जा रहा है की ज्यादा कस्टम ड्यूटी लगाने के बाद मोबाइल फोन चार्जर, इंडस्ट्रियल केमिकल्स, लैम्प, वूडेन फर्नीचर, कैंडिल, ज्वैलरी और हैंडक्राफ्ट जैसे उत्पाद महंगे हो सकते हैं. इसके अलावा, स्मार्टफोन मैन्युफैक्चरर्स के लिए चार्जर, वाइब्रेटर मोटर्स और रिंगर्स जैसे पार्ट्स इम्पोर्ट करना महंगा हो जाएगा.

यह भी पढ़ें  शत्रुघ्न सिन्हा ने अपना स्लोगन बदला, कहा- 'बिहारी बाबू हूं, बंगाली बाबू बनकर चुनाव लड़ा, अब हिंदुस्तानी बाबू हूं'