भारत के यह तीन खिलाड़ी को वन डे इतिहास में आज तक कोई गेंदबाज़ नहीं कर पाया आउट

कहा जाता है की क्रिकेट अनिश्चिताओ का खेल है क्रिकेट में आप दावे के साथ नहीं कह सकते की ये काम होगा | आपने क्रिकेट में एक से एक धुरंधर बल्लेबाज़ और गेंदबाज़ को देखा होगा और एक से एक रिकॉर्ड को चाहे लम्बे सिक्स की हो या ज्यदा शतक की या बेहतर गेंदबाजी की क्या आपको पता है | भारत के तीन ऐसे बल्लेबाज हैं, जिन्हें वनडे क्रिकेट में दुनिया का कोई भी गेंदबाज आउट ही नहीं कर पाया. आइए एक नजर डालते हैं, ऐसे ही कुछ 3 भारतीय बल्लेबाजों पर

सौरव तिवारी : बताया जा रहा है की सौरभ तिवारी ने जब इंटरनेशनल क्रिकेट में कदम रखा, तो उन्हें धोनी का डुप्लीकेट कहा जाता था. सौरभ तिवारी के लंबे-लंबे बाल देखकर लोग उनकी तुलना धोनी से करते थे. सौरभ तिवारी ने IPL में शानदार प्रदर्शन कर टीम इंडिया में जगह बनाई थी. सौरभ तिवारी ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ साल 2010 में वनडे डेब्यू किया था. सौरभ तिवारी ने टीम इंडिया के लिए सिर्फ तीन वनडे मैच खेले, जिसमें वह सिर्फ दो पारियों में ही बल्लेबाजी कर पाए. सौरभ तिवारी इन दोनों पारियों में नॉटआउट रहे. इसके बाद उन्हें टीम से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया |

यह भी पढ़ें  श्रेयस अय्यर ने रचा इतिहास, अपने सरजमीं पर टी20 में ऐसा करने वाले बने पहले भारतीय खिलाड़ी

फैज़ फज़ल : आपको बता दे की फैज फजल ने घरेलू क्रिकेट में अपने प्रदर्शन से सभी का ध्यान अपनी ओर खींचा और यही कारण रहा कि उन्हें टीम इंडिया में भी मौका दिया गया, लेकिन इस खिलाड़ी ने टीम इंडिया के लिए सिर्फ एक ही वनडे मैच खेला. साल 2016 में खेले गए इस वनडे मैच में जिम्बाब्वे के खिलाफ फैज फजल ने नाबाद 55 रनों की पारी खेली. इस शानदार अर्धशतक के बाद भी उन्हें टीम से बाहर कर दिया गया और वो आज तक टीम में वापसी की राह ढूंढ रहे हैं.

भारत रेड्डी : भरत रेड्डी का नाम शायद आज के युवा ना जानते हों, लेकिन इस खिलाड़ी को भी भारत के लिए सिर्फ तीन वनडे खेलना ही नसीब हुआ था. भरत रेड्डी ने 1978 से लेकर 1981 तक भारत के लिए तीन वनडे खेले थे, जिसमें उन्हें दो बार बैटिंग करने का मौका मिला और वो दोनों बार नाबाद रहे

यह भी पढ़ें  IPL 2022 : BCCI ने 2011 को फॉर्मूला की तरह अपनाया, टीमों को 5 के दो समूहों में बांटा जाएगा